प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

 

प्रयागराज (स्वतंत्र प्रयाग) विकास खण्ड जसरा के समीप जसरा- दौना मार्ग पर स्थित शिव मंदिर के नजदीक बंजर खेत(झाड़ियों) के बीच में पाया गया 22 वर्षीय युवक का शव से क्षेत्र में एकबार पुनः सनसनी फ़ैल गई, वहीं स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस के द्वारा मौके पर मौजूद ग्रामीणों के सहयोग से शव की शिनाख्त हुई। शव की शिनाख्त के बाद घटनास्थल पर पहुंचे परिजनों व अन्य लोगों ने इस जघन्य आपराधिक हत्या से क्षुब्ध होकर परिजनों व क्षेत्रीय लोगों में भारी जन  आक्रोश के कारण जमकर किया हंगामा।

बता दें कि घटना घूरपुर थाना क्षेत्र के दौना गांव के समीप स्थित प्राचीन श्री कैलाश धाम मंदिर के 300 मीटर दक्षिण स्थित सरपताही की है। जहां पर सुबह 11:00 बजे ग्रामीणों के द्वारा शव देखे जाने की सूचना जब पुलिस को दी, तो मौके पर पहुंचे घूरपुर थाना प्रभारी अश्वनी कुमार के निगरानी में शव की शिनाख्त कराई गई। जिसमें मृतक की पहचान वहां पर मौजूद ग्रामीणों के द्वारा श्वेतांष मिश्र पुत्र शैलेंश मिश्र निवासी ग्राम भीटा के रूप में की गई। बेटे का शव पाए जाने की सूचना पर रोते बिलखते मौके पर पहुंचे परिजनों के द्वारा जहां हंगामा किया गया।

घटना स्थल पर पहुंचे रोते बिलखते पिता शैलेश मिश्र ने बताया कि उनका बेटा कल शाम से ही घर पर नहीं आया था, जिसकी वह तलाश में रात में भी इधर-उधर के साथ रीवां राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित नारीबारी चाकघाट तक बच्चे की तलाश में भटकते रहे,पर देर रात तक कुछ पता नहीं चला।  वही सुबह  गांव के कुछ लोगों के द्वारा यह बताया कि श्वेतांष का कल जसरा कस्बे के रहने वाले नितीश केसरवानी के साथ शाम को तकरीबन 7 बजे जसरा बाजार में कुछ बात विवाद भी हुआ था। जिसके उपरांत ही आज सुबह उनके बेटे का शव मंदिर के समीप ही स्थित नाले के पास पाया गया। जिसके गले को धारदार हथियार से काट कर युवक की हत्या को अंजाम दिया गया व साथ ही साथ मृतक के शरीर पर अन्य चोट के निशान भी पाएं गये। परिजनों के द्वारा नामजद तहरीर देने के बाद जब पुलिस ने नितीश केसरवानी के घर पर दबिश दी तब तक अभियुक्त फरार हो चुका था, दबिश के दौरान नितीश के घर से एक अदत धारदार चाकू,जला हुआ मोबाइल फोन,के साथ साथ नितीश के घर के बगल में स्थित खंडहर में प्लास्टिक थैली में मौजूद खून भी बरामद हुआ है जिसे फारेंसिक टीम ने संकलित करके अपने साथ ले गई।


वही मौके पर मौजूद कुछ युवकों के द्वारा यह भी बताया गया कि श्वेतांश का नितीश केसरवानी से कुछ दिन पहले किसी चीज को लेकर विवाद हुआ था वह जसरा कस्बे में स्मैक बेचने का कारोबार किया करता है। और उसी के बाद आज सुबह श्वेतांश मिश्रा का शव पाया गया।

 जबकि मौके पर पहुंचे पुलिस उपायुक्त प्रोटोकॉल दीपक के द्वारा बताया गया कि पुलिस के द्वारा घटना को लेकर जांच पड़ताल की जा रही है और जल्द ही हत्या के कारणों का पता लगाकर परिजनों के द्वारा बताए गए लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी। जबकि परिजनों व घटना स्थल पर मौजूद कुछ लोगों से श्वेतांष का घटना के पूर्व शाम को भी विवाद होने का भी जिक्र करते हुए नितीश केसरवानी वह कुछ अन्य लोगों का उल्लेख कर रहे थे। जिस पर पुलिस द्वारा टीम बनाकर उनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।


मृतक के पिता शैलेश मिश्र के द्वारा यह भी बताया गया कि उनका बेटा हाईकोर्ट में किसी पद पर संविदा कर्मचारी के रूप में कार्यरत था और वह उनका इकलौता बेटा था।

 वहीं घटना को लेकर के पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त है। जबकि जिस जगह शव पाया गया है वहां पर खून के धब्बे वह खून के निशान नहीं पाए गए हैं। जिससे पुलिस को यह आशंका है कि हत्या कहीं और करने के उपरांत शव को यहां फेंका गया है।

वही भीड़ में मौजूद लोगों के द्वारा पुलिस को यह बताया गया कि घूरपुर थाना क्षेत्र में जसरा कस्बे में लालचंद इंटर कॉलेज के सामने व गौहनिया में बड़े पैमाने पर स्मैक बेचने का कारोबार बड़े पैमाने पर हो रहा है। लेकिन पुलिस के द्वारा इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है वही लोगों के द्वारा यह आशंका जताई जा रही है कि श्वेतांष मिश्र की  इस तरह से जघन्य हत्या के पीछे क्या कारण हो सकते हैं ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें