आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम के प्रतिनिधि को सौंपा

मंझनपुर,कौशाम्बी:(स्वतंत्र प्रयाग): महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के बैनर तले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने सोमवार को मुख्यालय में मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्तायों ने सरकारी कर्मचारी का दर्जा दिए जाने समेत कई मांगें उठाईं। इसके साथ ही कलक्ट्रेट पहुंच मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी के प्रतिनिधि को सौंपा।

जिले में संगठन से जुड़ी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। जिलाध्यक्ष माया सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार ने चुनाव से पहले तथा बाद में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से जो वायदे किए थे, वह पूरे नहीं किए गए।

 जिससे इस महंगाई और कोरोना महामारी में वह अपनी तथा परिवार की जान जोखिम में डालकर फ्रंट लाइन वर्कर के रूप में कार्य करने का इनाम बिना पेंशन रिटायरमेंट के रूप में मिला। ज्ञापन के हवाले से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने नई नियुक्ति करने से पहले हेल्पर का प्रमोशन वर्कर के पद पर करने, राज्य कर्मचारियों के समान मंहगाई भत्ता, हेल्थ वर्कर की तरह कोरोना वाॅरियर का दर्जा, 62 वर्षीय आंगनबाड़ी वर्कर और हेल्पर की छंटनी के आदेश को निरस्त करने सहित 30 सूत्रीय मांगों के निस्तारण की मांग उठाई। इस दौरान सुषमा सिंह, संजना दीक्षित, रेनू प्रजापति, सुधा कुशवाहा, निर्मला सिंह, अर्चना शुक्ला, पुष्पा मौर्या, सूफिया, सुनीता देवी आदि शामिल रहीं।

विकास मिश्रा 

ब्यूरो हेड कौशाम्बी 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें