अपहरण की गई विवाहिता मायके से हुई बरामद


फर्जी अपहरण के मुकदमे में निरुद्ध लोगों ने की कार्रवाई की मांग

कोरांव,प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग): कोरांव थाना क्षेत्र के माड़ो गांव से 9 माह पूर्व रहस्यमय तरीके से गायब हुई विवाहिता खुद अपने मायके भवानीपुर से बुधवार को बरामद हो गई। जिसके बाद फर्जी अपहरण के मुकदमे में निरुद्ध लोगों ने कहा है कि मुझ लोगों को फर्जी तरीके से अपहरण के मुकदमे में फंसाया गया था। 

विवाहिता महिला के परिवारीजनों ने ही उसे मायके भेजा था। जहां से उसे पुलिस ने बरामद कर थाने उठा लाई। पुलिस ने महिला के पति व बेटे को भी हिरासत में लेकर पूछताछ करने के बाद देर शाम तक छोड़ दिया। 

जबकि मामले में तेजबली पाल पुत्र स्वर्गीय बाबूलाल पाल के पत्नी बेटे व भतीजे था बहू व भाई के ऊपर अपहरण का मामला भी प्रदीप कुमार पुत्र रामगोपाल ने दर्ज करा दिया था। तेजबली पाल ने पुलिस से फर्जी अपहरण का मुकदमा दर्ज कराने वाले लोगों पर कार्रवाई की मांग की है। 

तेज बली ने आरोप लगाया है कि महिला खुद पति से झगड़ा कर अपने भाई को बुला कर मायके चली गई थी। जो वहीं रह रही थी किंतु हम लोगों के विरुद्ध फर्जी अपहरण का केस दर्ज करा दिया गया है। इस बाबत कोरांव थाने के उपनिरीक्षक सच्चिदानंद यादव से बात करने पर उन्होंने बताया कि उपरोक्त महिला अपने मायके में रह रही थी।

 उसे वहीं से बरामद किया गया है। पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया है। रही बात फर्जी मुकदमे की तो जांच पड़ताल की जा रही है जो भी सच्चाई होगी। उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

अजय प्रताप सिंह

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर