महंगाई की मार से देश व प्रदेश की जनता लाचार: पवन सोनकर



पेट्रोल-डीजल रसोई गैस खाद्य सामग्री सहित अन्य वस्तुएं लोगों से दूर


कोरांव,प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग): कोरोना संकटकाल में आर्थिक तंगी से जूझने के बाद अब आम जनता महंगाई की मार झेल रही है। पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में बेतहाशा वृद्धि से देश के किसानों की कमर टूट रही है। डीजल, पैट्रोल और रसोई गैस के दाम में हो रही वृद्धि से किसान, व्यापारी व आम नागरिक व हर वर्ग के लोग परेशान हैं। 

यह बातें समाजवादी पार्टी के विधानसभा सचिव पवन सोनकर ने कही।उन्होंने कहा कि घी, सरसों के तेल, दाल व चाय आदि खाद्य सामग्रियों के दाम काफी बढ़ चुके हैं। लगातार बढ़ रही महंगाई से रसोई का बजट बिगड़ चुका है। 

हर घर-घर में लोग परेशान हैं। हर माह दो हजार रुपये का आने वाला खर्च अब तीन से चार हजार रुपये पंहुच गया है। वहीं गैस सिलेंडर की कीमत बढ़ने से लोग सोचने पर मजबूर हो गए हैं। पैट्रोल के दाम बढ़ने से नौकरी पेशा वाले लोगों की जेबें अब ढीली हो रही है।

 डीजल के दाम में वृद्धि होने के कारण माल भाड़ा भी बढ़ गया है। किसानों के खेतों की जुताई और फसलों की सिंचाई में खर्च बढ़ने से चिंतित हैं। पीड़ितों की सुनवाई नही हो रही है। प्रदेश में गुंडाराज कायम है। कहा कि मौजूदा सरकारें अपने वादों से पीछे हट रही है। पवन सोनकर ने कहा कि जनता सब जान चुकी है आगामी विधानसभा चुनाव मुँहतोड़ जवाब देगी।

अजय प्रताप सिंह 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर