आजादी का अमृत महोत्सव एवं चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव आयोजन में वीर शहीदों को किया गया याद

      

 चित्रकूट ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग): भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष चंद्र प्रकाश खरे जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल, पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल, मुख्य विकास अधिकारी  अमित आसेरी, नगर पालिका अध्यक्ष कर्वी नरेंद्र गुप्ता, सांसद प्रतिनिधि तक शक्ति प्रताप सिंह तोमर की उपस्थिति में शहीद पार्क में आजादी के अमृत महोत्सव एवं चौरीचौरा शताब्दी महोत्सव आयोजन की श्रृंखला में काकोरी ट्रेन एक्शन की वर्षगांठ पर वीर शहीदों को नमन कार्यक्रम का शुभारंभ शहीद स्थल पर शहीद स्तंभ में दीप प्रज्वलन व पुष्प अर्पित कर किया गया।

भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष चंद्र प्रकाश खरे ने कहा कि वास्तव में आज जो यह कार्यक्रम मनाया जा रहा है उसके लिए मैं माननीय प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद देता हूं। लोग इन शहीदों को भूल गए थे, लेकिन हमारी भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने इनके स्मरण को याद करने के लिए पूरे भारतवर्ष में अमर शहीद स्तंभ बना कर इसे धूमधाम से मनाया जा रहा है। 

कहा कि जब आजादी की लड़ाई का प्रारंभ हुयी और लड़ने के लिए राम प्रसाद बिस्मिल, चंद्रशेखर आजाद, अशफाक उल्ला खान, सचिंद्र नाथ बख्शी आदि लोग आगे आए। इन्होंने कानपुर में पहला कार्यक्रम शुरू किया और 1925 से लेकर 1931 तक आजादी की लड़ाई का कार्य इन लोगों द्वारा किया गया।

 यह लोग गरम दल के लोग थे। काकोरी स्टेशन के पास चौरी चौरा ट्रेन को लूटने की योजना बनाई और लूट लिया। इनके ऊपर हत्या का मुकदमा चलाया गया। हमारे देश में न जाने कितने लोगों ने अपनी जान की आहुति दी है। जिसमें हमारी माताओं की गोद खाली हुई। उस गुलामी के कार्यकाल को हम भूल गए थे। इस देश के अंदर अमर शहीदों को नाम देना चाहिए।

 आजादी के अगुआ बाबा भीमराव अंबेडकर भी थे जो उनके भी स्मरण पर हमारी सरकार कार्य कर रही है। हम लोग अपने कार्य को कैसे कर सकते हैं यह हम लोगों को ही सोचना होगा। सोच बदलना चाहिए और देश और समाज के लिए अच्छे कार्य करें। इसी प्रेरणा के साथ हमारे माननीय मोदी जी व योगी जी कार्य कर रहे हैं। हम लोगों को उनसे सीख लेना चाहिए।

                      

   जिलाधिकारी  शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने कहा कि आज के इस पावन तिथि के अवसर पर पूरे देश में चौरी चौरा शताब्दी महोत्सव आयोजन की श्रृंखला में काकोरी ट्रेन एक्शन की वर्षगांठ मना कर वीर शहीदों को नमन किया जा रहा है। कहा कि हमें पता है कि 9 अगस्त 1925 को चौरी चौरा कांड हुआ था। 

उसी के आधार पर एक कार्यक्रम की श्रंखला शुरू हुई। उसी के अनुसार परंपरागत यह कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। हम अपने जो शहीद हुए हैं हम उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करें, असंख्य लोगों ने अपना बलिदान दिया है।

 यह अवसर स्मरण  कराने का है कि हम अपने देश को और आगे कैसे ले जाएं। इसी श्रंखला में आज यह कार्यक्रम आयोजित हो रहा है। हमें पुनः स्मरण करना होगा की काकोरी में ऐतिहासिक घटना घटित हुई थी। जिसमें ट्रेन को लूटा गया। 

अमर शहीदों ने जो कल्पना की उसी प्रकार से स्वतंत्र राष्ट्र को आजादी दिलाई। हम सब लोग उन सभी वीर सपूतों को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उनके पद चिन्हों पर हम लोग चलकर देश को आगे बढ़ाएं।

अध्यक्ष नगर पालिका परिषद कर्वी नरेंद्र गुप्ता ने कहा कि आज का यह दिन गरिमा पूर्ण है इस काकोरी कांड में हमारे वीर सपूतों ने अपनी आहुति दी कहा कि हम लोग 15 अगस्त 26 जनवरी को मनाते हैं। लेकिन आज हमारी भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने शहीदों के स्मरण को लेकर शहीद दिवस मनाए जाने का कार्यक्रम रखा है और हम आज इन अमर शहीदों को याद कर रहे हैं।

 जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल सुदीप सिंह माद्रा ने कहा कि आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। कहा कि जनपद में पहले शहीद स्थल नहीं था जो गत वर्ष जिला प्रशासन द्वारा 24 घंटे के अंदर शहीद स्थल तैयार किया गया। कहा कि जिन अमर शहीदों के बलिदान की वजह से आज हम लोग सांस ले रहे हैं। 

जो समाज के लिए कार्य किए हैं उनके स्मरण में पूरा वर्ष चौरी चौरा  के महत्व को योगदान के साथ मनाया जा रहा है। कहा कि दुश्मन ने जब सामने मुंह उठाया तो हमारे शहीदों ने मुंह तोड़ जवाब दिया है। इसके पूर्व अतिथियों ने 1995 में शहीद ओपी रक्षक छोटे लाल प्रजापति, भारत चीन पाक युद्ध 1962 में शहीद सीएफएन गोविंद प्रसाद सोनी के परिजनों को माल्यार्पण व शाल भेंट कर सम्मानित किया गया।

 कार्यक्रम के दौरान सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा पंजीकृत मां भगवती लोकगीत पार्टी के कलाकारों द्वारा शहीद गीत प्रस्तुत किए गए तथा एलईडी बैनों के माध्यम से कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी दिखाया गया। हेड कांस्टेबल  दिनेश कुमार शर्मा एवं जय अवस्थी व पूर्व माध्यमिक विद्यालय कोलगदहिया की छात्राओं द्वारा स्वागत गीत एवं  शहीदों के प्रति भक्ति गीत प्रस्तुत किए गए तथा पीएसी के जवानों द्वारा बैंड बाजा की धुन से शहीदों को याद किया। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक साकेत बिहारी शुक्ला ने किया।

                         

  इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी जी पी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक  शैलेंद्र कुमार राय,अपर उप जिलाधिकारी आकांक्षा सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर शीतला प्रसाद पांडेय, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजीव रंजन मिश्र, पर्यटन अधिकारी शक्ति सिंह एवं संबंधित अधिकारी तथा भारतीय जनता पार्टी के राम सागर चतुर्वेदी, मुन्ना करवरिया, पंकज अग्रवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधि तथा गणमान्य नागरिक, जनमानस तथा विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राएं एवं शिक्षक मौजूद रहे।

उत्तम शुक्ला

ब्यूरो हेड चित्रकूट

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर