विश्व आयुर्वेद परिषद कौशाम्बी इकाई द्वारा मनाई गई महर्षि चरक जयंती

कोखराज,कौशाम्बी:(स्वतंत्र प्रयाग):भरवारी नगर पालिका परिषद अंतर्गत बस स्टॉप भरवारी के सेवा सदन अस्पताल में महर्षि चरक जयंती मनाई गई और इस अवसर पर विश्व आयुर्वेद परिषद कौशाम्बी इकाई की स्थापना हुई जिसमें कस्बा के दर्जनों चिकित्सको ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

 इस मौके पर कार्यक्रम के संयोजक डॉ प्रेम प्रकाश शर्मा ने अपने संबोधन में चरक जयंती के बारे में विस्तार से चर्चा की उन्होंने बताया कि आज के ही दिन महर्षि चरक का जन्म हुआ था यह चरक संहिता नामक ग्रंथ के रचयिता थे जिसमें लिखा भी है कि आयुर्वेद के इलाज से बड़े से बड़े रोग ठीक हो जाते है जिसे अष्टांग आयुर्वेद महानंदा के नाम से जाना जाता है यह आयुर्वेद एवम चिकित्सा विज्ञान से संबंधित है।

जैसे छात्र सूत्र मल द्वारा आयुर्वेद पंच कर्म करने से सभी रोगों से निजात मिल जाता है। वही डॉ शर्मा ने बताया कि आज चरक जयंती के अवसर पर उन्होंने कहा कि आयुर्वेद की स्थापना करने के बाद यहा विधिवत तरीके से छात्र एवम छात्राओं के लिए पढ़ाई की व्यवस्था की जायेगी जिससे तमाम गम्भीर बीमारो से लोगो को निजात मिल सके।  इस अवसर पर डॉ बबलू गुप्ता डॉ अंकित गुप्ता डॉ धीरू केशरवानी डॉ जय प्रकाश डॉ रवि दत्त बैध आदि लोग मौजूद रहे।

विकास मिश्रा 

ब्यूरो हेड कौशाम्बी 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर