सिराथू के संपूर्ण समाधान दिवस में 163 शिकायतों में 7 का निस्तारण


जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित हुआ कार्यक्रम

सिराथू, कौशाम्बी:(स्वतंत्र प्रयाग): जनसमस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए शासन के निर्देश पर सिराथू तहसील सभागार में जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। जिसमें बिजली, पानी, प्रधानमंत्री आवास, सरकारी भूमि पर कब्जे को लेकर  163 फरियादियों ने शिकायत की जिस पर सात शिकायतों का निस्तारण अधिकारियों द्वारा मौके पर ही करा दिया गया, बाकी शिकायतों के निस्तारण के लिए जांच के लिए भेजा गया है। शनिवार को जिलाधिकारी सुजीत कुमार व पुलिस अधीक्षक राधेश्याम विश्वकर्मा की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया।

 इस दौरान नगर पंचायत के सभासद ज्ञानचंद पाल, फूलचन्द्र केसरवानी , नामित सभासद सौरभ केसरवानी, नीलम वैश्य, गोविंदी देवी, पीयूष सिंह आदि सभासदों ने डीएम को शिकायती पत्र देकर बताया की नगर पंचायत में  पिछले वित्तीय वर्ष में कराए गए विकास कार्यों में अध्यक्ष अनिल कुमार व ईओ सूर्य प्रकाश गुप्ता द्वारा लाखों रुपए का गबन किया है।

 मामले की शिकायत पूर्व में की गई थी लेकिन अब तक उसकी जांच नहीं कराई गई। कडा विकासखंड क्षेत्र के त्रिलोकपुर गांव निवासिनी सविता देवी ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि दो साल पहले बारिश में उसका कच्चा घर गिर गया है। झोपड़ी डालकर गुजर-बसर कर रही है लेकिन अब तक जिम्मेदारों की अनदेखी के चलते आवास नहीं मिला है ।

 उदिनहिन बुजुर्ग के ग्राम प्रधान दशरथ लाल ने प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उनके गांव में सरकारी भूमि पर दूसरे गांव के लोगों अवैध रूप से कब्जा कर मकान का निर्माण करा रहे हैं।  पंइसा गांव के मख्खन लाल  शिकायत करते हुए बताया कि मोहल्ले में लगा हैंडपंप दो साल से खराब पड़ा है। 

ग्राम प्रधान व सचिव रिबोर नहीं करा रहे हैं।  पीने का पानी भरने के लिए बस्ती के लोगों को दूर जाना पड़ता है। पथरावा का मजरा खोजवापुर निवासी छोटेलाल पुत्र स्व छेदीलाल ने शिकायत पत्र देते हुए बताया कि उनके द्वारा पूर्व में भी थाना प्रभारी सैनी को शिकायती पत्र दिया गया था जिसका आज तक निस्तारण नही किया गया है ।जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए जांच कर शीघ्र आख्या उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया । 

सिराथू विकासखंड के मीठेपुर  सयारां गांव के लवलेश कुमार ने बताया कि ग्राम प्रधान द्वारा आवास लाभार्थियों से पैसे की मांग की जा रही है। लाभार्थियों के खाते में क़िस्त पहुंचने के बाद जबरन वसूली करने करने का आरोप लगाया है। इसके अलावा पुलिस व राजस्व संबंधित शिकायत दर्ज कराई गई। 

सात शिकायत भूमि पर कब्जे संबंधित की गई थी जिनका निस्तारण अधिकारियों द्वारा मौके पर करा दिया गया है। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी, उप जिला अधिकारी प्रखर उत्तम, क्षेत्राधिकारी गोपाल कृष्ण नारायन, तहसीलदार संतोष कुमार समेत डीएफओ आरएस यादव , डीपीआरओ डॉ बाल गोविंद श्रीवास्तव सहित दर्जनों जिला स्तरीय व तहसील स्तरीय सभी अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे। 

विकास मिश्रा

ब्यूरो हेड कौशाम्बी 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर