विवाहिता को मारपीट कर फांसी पर लटकाने का प्रयास चार के खिलाफ केस दर्ज़




दहेज की मांग पूरी नहीं कर पाने पर ससुरालियों की हैवानियत

घूरपुर,प्रयागराज: (स्वतंत्र प्रयाग): इलाके के अमिलिया गांव में दहेज के लोभी ससुरालियों ने मांग नहीं पूरी कर पाने पर अपनी बहू को पिटाई कर फांसी पर लटकाने का प्रयास किया। गनीमत रहा कि विवाहिता की चीख पुकार सुन पड़ोस के लोग आ धमके जिससे विवाहिता की जान बच गई। शिकायती पत्र पर पुलिस ने पति समेत चार के खिलाफ केस दर्ज़ कर मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

देवरी गांव निवासी श्री राम भारतीय ने दो वर्ष पूर्व अपनी बेटी अर्चना का विवाह घूरपुर के अमिलिया गांव निवासी राम बली भारतीय पुत्र सूर्य पाल के साथ अपने हैसियत के अनुसार दान दहेज देकर किया था। 

विवाह के बाद दूसरी बार जब बेटी अर्चना अपने ससुराल गई तो ससुरालियों ने एक अपाचे बाइक और पचास हजार नकदी की मांग की जिसे पूरा ना कर पाने के बाद विवाहिता को मारपीट कर प्रताड़ित करना शुरू हो गया। जिसे लेकर बिरादरी के लोगो के बीच बैठक भी हुआ।

 लेकिन प्रताड़ित करना बंद नही किया गया। इस बीच दस माह पूर्व एक बेटी का जन्म हुआ तो अर्चना और मायके वाले यह सोचे कि हो सकता है बेटी के जन्म के बाद लोग सुधर जाए लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

 बीते शुक्रवार की रात ससुरालियों ने एकजुट होकर दहेज की बार बार मांग करने पर पूरी नही होने पर विवाहिता को जमकर लात घुसो से पिटाई कर फंदा बना फांसी पर लटकाने का प्रयास किया जाने लगा चीख पुकार सुन आसपास के लोगो को भीड़ जुट गई जिससे उसकी जान बच गई।

 सूचना पर विवाहिता के पिता बेटी के घर पहुंच बेटी को साथ लेकर घूरपुर थाना पहुच मामले में पति समेत जेठ, सास, ससुर के खिलाफ शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की। जिस पर पुलिस ने मामले में केस दर्ज़ कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें