पुलिस अधीक्षक ने ली परेड की सलामी, पुलिस कर्मियों को दिए सराहनीय कार्य के लिये प्रसस्ति-पत्र

 

 

चित्रकूट ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग):दिनाँक 16.07.2021 को पुलिस अधीक्षक चित्रकूट अंकित मित्तल द्वारा पुलिस लाइन्स चित्रकूट में शुक्रवार परेड की सलामी लेकर परेड का निरीक्षण किया गया । परेड के दौरान पुलिस लाईन्स में प्रशिणाधीन आरक्षियों की प्रत्येक टोली की ड्रिल देखी गयी। 

जिसमें आवश्यक सुधार हेतु उस्तादों को दिशा निर्देश दिये गये। थानों से आये पुलिस कर्मियों की ड्रिल देखी गयी। जिसमें प्रतिसार निरीक्षक को शस्त्र ड्रिल में आवश्क सुधार हेतु निर्देशित किया गया। डायल 112 की दो पहिया व चार पहिया वाहनों को चेक किया गया। जिन वाहनों में हूटर एवं टायर खराब थे उन्हे बदलवाने हेतु डायल 112 प्रभारी को निर्देशित किया गया। 

बैरिक का निरीक्षण कर साफ-सफाई हेतु निर्देशित किया गया। भ्रमण के दौरान जगह जगह टूटी बाऊन्ड्री बॉल को बनवाने तथा पुलिस लाइन्स के प्रमुख द्वारा पर गेट लगवाने हेतु दिशा निर्देश दिये।  क्वार्टर गार्द में सलामी लेकर गार्द का निरीक्षण किया गया।

 तत्पश्चात डायल 112 के दो पहिया चार पहिया वाहनों में कार्यरत पुलिस कर्मियों को उनके द्वारा किये गये सराहनीय कार्य के लिये प्रसस्ति पत्र देकर पुरुस्कृत किया गया। 

इस दौरान सभी पुलिस कर्मियों का उत्साह वर्धन करते हुये सभी की सराहना की गयी। उन्हे भविष्य में भी निरन्तर जनसेवा में सरहानीय कार्य करते रहने हेतु प्रेरित किया गया। तत्पश्चात बीट पुलिसिंग को सुदृण बनाने के उद्देश्य से थानों से आयी बीट आरक्षियों की बीट पुस्तिका चेक की गयी।

 बीट आरक्षियों से बीट सम्बन्धी सूचना पूछी गयी तथा निर्देश दिये गये कि बीट पुस्तिका में बीट से सम्बन्धी सम्पूर्ण विवरण अंकित किया  जाये। 

                        इस दौरान क्षेत्राधिकारी नगर/लाईन्स शीतला प्रसाद पाण्डेय, प्रतिसार निरीक्षक  सुमेर सिंह, डायल 112 प्रभारी  आर.के सिंह तथा अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर