लेबनान की आर्थिक स्थिति बेहद खराब, सेना के पास खाने तक को पैसे नहीं

 


नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): लेबनान की आर्थिक स्थिति बेहद खराब हो चुकी है जिसका असर अब सेना पर दिखने लगा है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि लेबनान की सेना को अपने खर्चों के लिए सैन्य हेलीकॉप्टर को किराए पर भेजना पड़ रहा है। सूत्रधार रिपोर्ट के मुताबिक, लेबनानी सेना ने अपने एक आधिकारिक बयान में बताया है कि वह नागरिकों को 15 मिनट की उड़ान का मौका देगी। इस दौरान वहां के नागरिक लेबनान को ऊपर से देख सकेंगे। 

लेबनान की सेना की वेबसाइट पर एक बयान में कहा गया है, पर्यटकों को लेबनान आसमान से दिखाने के लिए हेलीकॉप्टर की सवारी की पेशकश की जा रही है। वेबसाइट पर बताया गया है कि पर्यटकों की सवारी सेना के रॉबिन्सन आर44 हेलीकॉप्टरों पर होगी और 3 साल या उससे अधिक उम्र के यात्री इसका आनंद उठा सकते हैं। इसकी कीमत लगभग 150 डॉलर रखी गई है। सैन्य के एक सूत्र ने बताया कि इसका उद्देश्य वायु सेना का समर्थन करने के अलावा लेबनानी पर्यटन को नए तरीके से प्रोत्साहित करना भी है। इस आर्थिक संकट ने रखरखाव और उपकरणों के लिए सेना के बजट को घटा दिया है।

बता दें, पिछले साल अगस्त में बेरूत में हुए एक बड़े विस्फोट के बाद से लेबनान एक कामकाजी सरकार के बिना है। इस विस्फोट में 200 से अधिक लोग मारे गए थे, इससे शहर में तबाही मची थी। विश्व बैंक ने भविष्यवाणी की है कि लेबनान इस समय दुनिया में बीते 150 सालों में सबसे खराब स्थिति में है। वहीं इसके अलावा लेबनान में पिछले 20 महीने से आर्थिक संकट के चलते हालात और बिगड़ गए हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर