प्यास से तड़प रहे शंकरगढ़वासी, दिया धरना


जेई के आश्वासन पर 8 घंटे बाद खत्म हुआ धरना


शंकरगढ़,प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग):  पत्थरों के गढ़ शंकरगढ़ की पेयजलापूर्ति पूरी तरह से चरमरा गई है। बुंदेलखंड क्षेत्र में आने वाले शंकरग़ढ़ की 70 फीसद आबादी सप्लाई के पानी पर ही आश्रित है। पर, पिछले सप्ताह भर से यहां पानी की सप्लाई ठप है और स्थानीय लोग डिब्बा-बाल्टी लेकर दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। शिकायत पर जल निगम ने पाइप फटने की बात कहकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया।

गुरुवार तक कोई भी कर्मचारी, अधिकारी फाल्ट खोजने नहीं आया। लोगों की इस समस्या से परेशान भाजपा के जिलामीडिया प्रभारी सतीश विश्वकर्मा ने जल निगम शंकरगढ़ के गेट पर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। सतीश विश्वकर्मा के साथ धरने में स्थानीय लोग भी शामिल हो गए हैं।

जलनिगम शंकरगढ़ के दफ्तर पर धरनारत सतीश विश्वकर्मा ने कहा कि जलनिगम पाइप फटने की बात बता रहा है, लेकिन उसकी मरम्मत नहीं करवा रहा। 

गर्मियों के दिनों में पेयजल नहीं मिलने से लोग एक-एक बूंद पानी के लिए बिलबिला रहे हैं। यह इलाका पूरी तरह से पहाड़ी एरिया पर स्थित है। यहां के 70 फीसद लोग पेयजल सप्लाई पर ही निर्भर हैं। जबकि अवशेष के पास स्वयं का बोर है। मौजूदा समय में एक सप्ताह से पेयजलापूर्ति ठप चल रही है। इस भीषण गर्मी में पानी नहीं मिलने से लोग बूंद-बूंद पानी के लिए परेशान हैं।

आरोप लगाया कि जल निगम के जेई भी पिछले तीन महीने से यहां नहीं आए। अफसरों की निगरानी न होने से स्थानीय कर्मचारी भी मनमानी पर उतारू हैं। सतीश विश्वकर्मा ने कहा कि क्षेत्र में 4.68 करोड़ रुपये का गौरा पेयजल योजना (प्रोजेक्ट) है। 

उसकी पहली किश्त पचास लाख रुपये के रूप में जारी हो गई है,लेकिन अभी तक काम शुरू नहीं हो पाया है। यदि यह प्रोजेक्ट शुरू हो जाए तो काफी हद तक यहां की समस्या हल हो सकती है। जनप्रतिनिधि भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे। इसी तरह का एक प्रोजेक्ट लाइनपार-पटहट रोड भी अधर में लटका हुआ है।

सतीश ने कहा कि यदि आगामी 15 अगस्त तक  समस्या का स्थायी समाधान नहीं किया जाता तो मैं भारतीय जनता पार्टी के पद से इस्तीफा दे दूंगा।

 सतीश का साथ देने वालों में व्यापार मंडल अध्यक्ष मूलचंद्र केसरवानी, महामंत्री रतन केसरवानी,विहिप नगर अध्यक्ष सुजीत केसरवानी,जय केसरवानी, सोमनाथ वर्मा, कुशल जैन, उमा वर्मा, हेमराज केसरवानी,मून द्विवेदी, उमेश केसरवानी, पंचराज, रत्ना वर्मा, रमा वर्मा, विजयलक्ष्मी, आशा वर्मा आदि लोग धरने में बैठे रहे।सप्लाई ठप होने का कारण जानने पर जल निगम के अवर अभियंता श्याम बहादुर पाल ने बताया कि बीएसएनएल ने शंकरगढ़ के रानीगंज के आसपास करीब पांच जगहों पर पाइपलाइन को क्षतिग्रस्त कर दिया है, 10 फीट गहरी लाइन नीचे होने के कारण समय लग रहा है।कल से समस्या दूर हो जाएगी। दूसरी ओर एसडीएम बारा सौम्या गुरुरानी ने बताया कि समस्या गंभीर है,इसका तत्काल समाधान कराया जा रहा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर