आरक्षण नही अमीरों को, संरक्षण सभी गरीबों को: आर के पाण्डेय

 


 जातीयता के बजाय भारतीयता हो


नैनी, प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग): जाति, वर्ग व मजहब आधारित व्यवस्था को लोकतंत्र का कलंक बताते हुए वरिष्ठ समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने सरकार, राजनैतिक दलों व संगठनों से जातीयता के बजाय भारतीयता पर आधारित कार्य योजना बनाकर कार्य करने का आग्रह किया है।

श्री पाण्डेय ने मीडिया से वार्ता मे कहा कि मात्र जाति, वर्ग, मजहब के बजाय प्रत्येक भारतीय के कल्याण व योग्यता का सम्मान हेतु सरकार कार्य करे तथा अमीरों को आरक्षण देने के बजाय सभी गरीबों को संरक्षण दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार देश के सभी निर्धन, बेसहारा, अनाथ बच्चों को गोद लेकर उनके समुचित विकास का प्रबन्ध करे।

   बता दें कि पीडब्ल्यूएस प्रमुख आर के पाण्डेय एडवोकेट अपने संगठन के माध्यम से मात्र 01ईंट 01रु0 के जन सहयोग से श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या परिक्षेत्र के गोरसरा शुक्ल (बस्ती) में परम शक्ति धाम परमेंदु शिक्षा सदन की स्थापना हेतु जन सम्पर्क अभियान पर हैं जिसका एकमात्र उद्देश्य आम जनमानस के बच्चों को एक समान उत्तम शिक्षा के साथ सभी निर्धन बेसहारा परिवारों की समुचित सहायता व उनके बच्चों को पूर्णतया निःशुल्क उत्तम शिक्षा उपलब्ध कराना है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर