ससुरालियों से तंग आकर विवाहिता ने लगाई फांसी

 

सीओ ने घटनास्थल का किया मुआयना,पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

शंकरगढ़,प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग):  महज साल भर पहले ब्याही गई एक विवाहिता ने ससुरालियों के दुर्व्यवहार से आहत होकर फांसी लगा ली। मायके में फांसी लगाए जाने की जानकारी परिजनों को काफी देर में हुई।

 घटना की जानकारी होने पर क्षेत्राधिकारी बारा अवधेश कुमार शुक्ल ने मौका मुआयना किया और पीड़ित परिवार के घर जाकर मुलाकात की और न्याय का आश्वासन दिया। बताया जाता है कि ससुरालियों से अनबन होने के बाद पिछले दो माह से वह मायके में रह रही थी। बेटी की मौत से पूरे घर में कोहराम मचा हुआ है। मृतका के तीन भाइयों की भी पहले ही मौत हो चुकी है।यह मामला यमुनापार के शंकरग़ढ़ थाना क्षेत्र का है।

 नगर पंचायत शंकरगढ़ के सदर बाजार निवासी लड्डू (महाजन) केसरवानी ने अपनी लाडली बिटिया माया उर्फ कीर्ति केसरवानी (29) की शादी चित्रकूट जनपद के मऊ निवासी श्रीश्याम के साथ बीते 30 जून 2020 में की थी।

 श्रीश्याम अहमदाबाद में एक साफ्टवेयर कंपनी में काम करता था। मायके पक्ष का आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुरालियों का व्यवहार ठीक नहीं रहा। माया के साथ हमेशा बुरा बर्ताव किया जाता था, इससे माया उर्फ कीर्ति चंद महीने में ही ससुरालियों से ऊब गई और उसने ससुराल में ही एक बार फांसी लगाने की कोशिश की थी। पर, उसे बचा लिया गया था।

मायके पक्ष के मुताबिक माया दो माह पहले मायके चली आई और यहीं रहने लगी। बीती रात घर के सभी लोग खाना खाकर सो गए और माया ने अपने कमरे में साड़ी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। इसकी जानकारी शनिवार की सुबह मां को उस समय हुई, जब वह बेटी को जगाने के लिए उसके कमरे में पहुंची, जहां फांसी के फंदे के सहारे बेटी का शव लटकता देख उसकी चीख निकल गई। 

जानकारी होते ही मौके पर तमाम लोगों की भीड़ जमा हो गई। मौके पर आई शंकरग़ढ़ पुलिस ने शव को नीचे उतारा। शरीर अकड़ गया था। समझा जा रहा है कि माया ने रात दस से बारह के बीच ही फांसी लगा ली थी। 

फिलहाल बेटी की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। लड्डू महाजन के तीन बेटे व तीन बेटियां थीं, जिसमें तीनों बेटों की पहले ही मौत हो चुकी है और अब एक बेटी ने भी साथ छोड़ दिया। इससे लड्डू महाजन की भी तबियत खराब हो गई है। 

एसओ कुलदीप कुमार तिवारी ने बताया कि शव को चीरघर भेज दिया गया है। पीड़ित पक्ष की तहरीर के आधार पर पति, सास, ससुर, जेठ, जेठानी के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर