पुरस्कार घोषित फरार अभियुक्त गिरफ्तार

 चित्रकूट ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग): पुलिस अधीक्षक जनपद चित्रकूट अंकित मित्तल के निर्देशन में अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में निरीक्षक पंकज कुमार पाण्डेय तथा उनकी टीम द्वारा 25000/-रुपये का इनामी सम्बन्धित मु0अ0सं0 67/2000 धारा 306 भादवि के अभियुक्त अभि0 गुलाब चंद्र साहू पुत्र भैरो प्रसाद निवासी उतारखाना, पुरानी बाज़ार थाना कोतवाली कर्वी जनपद चित्रकूट को गिरफ्तार किया गया। 

उल्लेखनीय है कि निरीक्षक पंकज कुमार पांडेय जनपद चित्रकूट सम्प्रति सम्बद्ध प्रयागराज एयरपोर्ट सुरक्षा में सम्बन्ध है जो पुलिस अधीक्षक महोदय की अनुमति उपरान्त तलाश वांछित/पुरस्कार घोषित अपराधी में प्रस्थान करके बस स्टैंड कर्वी चित्रकूट आये एवं निरीक्षक अपराध दीपेंद्र कुमार सिंह व हमराहियों उ0 नि0 आनंद कुमार मिश्र व का0 पीयूष शरन श्रीवास्तव बस स्टैण्ड के पास मिले। 

उसी समय मुखबिर खास द्वारा सूचना प्राप्त हुयी कि पुरस्कार घोषित अपराधी गुलाब चंद्र साहू पुत्र भैरो प्रसाद निवासी उतरखाना पुरानी बाज़ार कर्वी, बेड़ी पुलिया स्थित यात्री प्रतीक्षालय के पास खड़ा है तथा किसी साधन के इंतजार में है। यदि शीघ्रता करें, तो पकड़ा जा सकता है। इस सूचना पर निरीक्षक पंकज कुमार पाण्डेय द्वारा विश्वास कर निरीक्षक दीपेंद्र कुमार सिंह तथा उनकी टीम के साथ मुखबिर के साथ बेड़ी पुलिया की ओर प्रस्थान किया गया। 

बेड़ी पुलिया के थोड़ा पहले मुखबिर खास ने इशारा करके बताया कि जो व्यक्ति, सफेद और सलेटी रंग की चौड़े पट्टी की बड़े चेक शर्ट पहना हुआ है। यात्री प्रतीक्षालय के पास खड़ा है, वही पुरस्कार घोषित अपराधी है। जैसे ही पुलिस टीम यात्री प्रतीक्षालय के पास खड़े व्यक्ति के पास गाड़ी से उतरकर पहुंचे कि व घबराकर  तेज़ी से भागने लगा। 

हिकमत अमली से अभियुक्त को पकड़ा गया। नाम,पता पूछने पर उसने अपना नाम गुलाब चन्द्र साहू पुत्र भैरो प्रसाद निवासी उतरखना पुरानी बाज़ार कर्वी जनपद चित्रकूट व उम्र करीब 58 वर्ष बताया। पकड़ा गया व्यक्ति थाना कोतवाली कर्वी के मु0अ0सं0 67/2000 धारा 306 आईपीसी में नामजद अभियुक्त है तथा इसके विरुद्ध मफरुरी में दिनांक 6/6/2000 को आरोप पत्र माननीय न्यायालय प्रेषित किया जा चुका है। जिस पर पुलिस अधीक्षक जनपद चित्रकूट के द्वारा 25000/- रुपए का पुरस्कार घोषित किया गया था। 

पूछतांछ पर अभियुक्त द्वारा बताया गया कि वह अपनी पत्नी की मृत्यु के बाद में भाग गया था। कभी चित्रकूट में, कभी दिल्ली, कभी हरियाणा, नोएडा, गाज़ियाबाद,बांदा,अतर्रा, बदोसा में लुक छीप कर भेष बदलकर रह रहा था। 

                          गिरफ्तार करने वाली टीम मे निरीक्षक पंकज कुमार पाण्डेय सम्बद्ध प्रयागराज एयरपोर्ट सुरक्षा, निरीक्षक अपराध दीपेन्द्र कुमार सिंह, उ0नि0 आनन्द कुमार मिश्रा, का0 पीयूष शरन श्रीवास्तव, का० विपिन, का० प्रवीण शामिल रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर