पौधरोपण के बाद सेवा कर वृक्ष का रूप देना ही सार्थक: मनीष तिवारी


करछना, प्रयागराज:(स्वतंत्र प्रयाग):  पौध लगाना किसी यज्ञ से कम पुनीत कार्य नही है, किन्तु इन्हे पुत्रवत पालने और सेवा करके वृक्ष का रूप देने के बाद ही पौधरोपण का संकल्प सिद्ध होता है। सभी को चाहिए कि इस अभियान में अपनी भागीदारी निभाते हुए दूसरे को भी पौधे लगाने के लिए प्रेरित करें। 

यह बातें बृज मंगल सिंह इंटर कालेज में रविवार को विद्यालय परिसर में छायादार पौधों का रोपण करते हुए प्रधानाचार्य मनीष तिवारी ने कही। उन्होने बताया कि आज सोमवार को विद्यालय के शिक्षक और कर्मचारियों की  मौजूदगी में वृहद पौधरोपण किया जाएगा, साथ ही आन लाइन पठन-पाठन से जुड़े छात्रों को भी पौधरोपण का महत्व समझाते हुए अपने-अपने घर और पास पड़ोस के लोगों को पौधे लगाने के लिए प्रेरित भी किया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर