दबंग अराजक तत्व जबरन गौशाला में कर रहे अवैध कब्जा भुक्त भोगी न्याय की मांग रहा भीख

कौशांबी ब्यूरो: (स्वतंत्र प्रयाग): सराय अकिल थाना क्षेत्र के बेरुई गांव में बनी गौशाला पर बंधे जानवरों के गौशाला को दबंग अराजक तत्वों द्वारा जमीन  हड़प कर  जबरन माकान निर्माण करना चाहते है! गौशाला रक्षक ने कई बार मना किया तो उसको जान से मारने की धमकी दे रहे है पीड़ित गौरक्षक ने जिला अधिकारी और पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर जांच कर कार्रवाई की मांग किया है। 

 बतादे की ग्राम सभा बेरूई निवासी सियाराम अपने जमीन पर  निजी गौशाला बनाकर गायों की सुरक्षा काफी अर्शे से कर रहे है जिसमे

बेरुई गांव मुस्लिम बाहुल्य गांव होने के कारण लोग सियाराम, पुत्र जानकी प्रसाद के साथ मारपीट करने धमकाने तथा घर से बाहर करने कि धमकी दे रहे है । साथ ही साथ गरीब होने के कारण एक विशेष समुदाय के दबंग

लोगो द्वारा जबरन सियाराम की जमीन पर बनी गौशाला मे कब्जा करने की नियत से विपक्षी-झुर्री रिजवी, पुत्र छीत्तु रिजवी, हसन रिजवी, पुत्र लल्लन रिजवी महमूद आलम ,लल्लन रिजवी, अच्छन रिजवी, ये सब मिलकर भुक्तभोगी के जमीन पर जबरन कब्जा करके उसमे दीवार उठा कर दरवाजा लगा लिए है जब विपक्षी लोग निर्माण शुरू किए थे।

 भुक्त भोगी थाने ,चौकी बालो से न्याय की गुहार लगाया किन्तु किसी ने गरीब की फरियाद नही सुनी  उल्टा सियाराम पर इल्जाम लगा रहे है की तुम खुद गलत हो उनसे जमीन का कागज मंगा जा रहा है जबकि गांव सभा की आबादी में पूर्व में शियराम काविज थे और अपना छप्पर डाल कर अपने पशुओं की उसी में देखभाल करते थे

सियाराम के मकान के बगल मे गौशाला बनी हुई है, जिसका उपयोग जानवरों के रहने के लिए पूर्वजो ने 45साल से करते चले आ रहे है ।सियाराम के मकान के चारो तरफ एक समुदाय के लोगो की आबादी है ये लोग इकठ्ठा होकर  ,सियाराम को गांव से निकालने कि धमकी दे रहे है ताकि सियाराम के मकान एवं गौशाला पर कब्जा आसानी से कर ले ।

सियाराम उपरोक्त व्याक्तियों कि हरकत से तंग आ चुका है, अपनी जान माल कि सुरक्षा के लिए न्याय की गुहार लगा रहा है भुक्तभोगी ने आरोप लगाते हुए कहा कि  विपक्षी झुर्री रिजवी, हसन रिजवी महमूद आलम रिजवी अच्छन रिजवी, लल्लन रिजवी  ये लोग इतना आतंक मचा रहे है कि सरकारी नल मे जिसमे सब लोग पानी भर रहे थे उसको भी निकाल कर अपने पास रख लिए।

आबादी जमीन होने के बावजूद भी इमामबाड़ा के नाम पर सारे आबादी जमीन पर कब्जा कर घेरा बंदी कर लिए और सरकारी लाइट का खंबा भी अपने दीवार के अंदर कर लिए प्रशासन कोई जांच नही कर रहा  है  न तो उन लोगो के खिलाफ कोई जांच  हो रही है भुक्तभोगी शियराम ने बताया कि दबंग लोग गौशाला के पास दरवाजा कर लिए है जिससे भविष्य में दरवाजा होने पर गौशाला में परेशानी होगी क्योंकि जब दरवाजा हो जाएगा जो कभी नही था तो भुक्तभोगी को परेशानी होगी ऐसी स्थिति में भुक्तभोगी ने जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से न्याय दिलाने की मांग किया है।

 इस संबंध में थानाध्यक्ष सरायअकिल महेश मिश्रा से बात की गई तो उनका कहना था कि मेरी  जानकारी में भुक्तभोगी जहां गौशाला बता रहे है वह जमीन किसी ने इनको दिया था अब वह अपनी ले रहा है  बाकी मैं इस पर कार्रवाई करूँगा इसको दिखवाता हूँ।

अब सच्चाई क्या है यह तो जांच से ही पता चलेगा भुक्त भोगी का कहना है कि मैंने मुख्यमंत्री हेल्फ़ लाइन पर शिकायत किया तो 112 पुलिस आयी थी रोक कर चली गयी थी किन्तु जाने के दो दिन बाद ही जबरन दरवाजा लगा लिया गया बात जो भी हो यह तो चौकी इंचार्ज और पुलिस ही जाने किन्तु भुक्तभोगी न्याय के लिए गुहार लगा रहा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर