लोक अदालत फोरम मे समझौता हो जाने से दोनो पक्ष सुखी हो जाता है: न्यायमूर्ति अली जामिन

 

चित्रकूट ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग): न्यायमूर्ति अली जामिन प्रशासनिक न्यायाधीश माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण चित्रकूट द्वारा आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलित व माल्यार्पण तथा फीता काटकर शुभारंभ किया ।

 मां न्यायमूर्ति ने कहा कि आज का दौर जोखिम भरा चल रहा है। आम पब्लिक आर्थिक स्थिति से भी कमजोर है और अन्याय का भी सामना कर रही है। कहा कि लोक अदालत ऐसा फोरम है जिसमें अधिकारी बहुत हद तक समर्पित होकर वास्तविक न्याय दिला सकते हैं। 

पारिवारिक वाद में छोटी मोटी विवाद से समस्या होती है। जिसमें समझौता हो जाने पर परिवार सुखी रहता है। कहा कि न्यायिक प्रक्रिया बहुत लंबी है। छोटे-मोटे मामले अगर समय से निस्तारित हो जाएं तो पैसा व समय बचेगा और वह पैसा विकास में लगाएंगे तो देश व प्रदेश का विकास होगा। 

ऋण के मामले में आगे बढ़कर अगर बैंक के अधिकारी वास्तविक रूप से योगदान दे तो निश्चित रूप से लोगों का आशामय जीवन व्यतीत होगा। कहा कि न्याय विभाग के साथ-साथ इन छोटी-छोटी कमियों पर मीडिया को भी ध्यान देने की जरूरत है। सभी लोग समाज में समानता की तरफ बढ़े तो हमारा देश इस तरह सर्वोत्तम की तरफ बढ़ेगा।

 मैं इस लोक अदालत के माध्यम से जनपद वासियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं तथा आशा करता हूं कि जो यहां पर राष्ट्रीय लोक अदालत में सभी विभाग अपने अपने काउंटर लगाकर लोगों की समस्याओं का निस्तारण कर रहे हैं, उससे लोग लाभान्वित हो। माननीय न्यायमूर्ति ने न्यायिक अधिकारियों से अपेक्षा की है कि कानूनी दायरे में रहकर अधिक से अधिक लोगों को न्याय दिलाएं। 

जिससे न्यायपालिका का जो आदिकाल से महत्ता रही है वह बनी रहे और पब्लिक का भी विश्वास न्यायपालिका पर यथावत रहे। कार्यक्रम स्थल पर माननीय न्यायमूर्ति का जिला जज सहित अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने स्वागत किया तथा विभिन्न विभागों द्वारा कैंप लगाकर अधिक से अधिक लोगों की समस्याओं का निस्तारण किया गया।

                      इस अवसर पर जिला जज/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रविंद्र नाथ दूबे, अपर जिला जज/नोडल अधिकारी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सतीश चंद्र द्विवेदी, पूर्णकालिक जिला विधिक सेवा प्राधिकरण विदुषी मेहा सहित अन्य वरिष्ठ न्यायिक अधिकारी तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी व बैंक अधिकारी तथा समस्या ग्रस्त व्यक्ति आदि मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर