वैवाहिक जीवन एक दूसरे के लिए एक नए परिवार व जीवन की शुरुआत होती है:सिद्धार्थ नाथ सिंह

 

प्रयागराज: (स्वतंत्र प्रयाग): वैवाहिक जीवन दोनों के लिए एक नए परिवार व जीवन की शुरुआत होती है यह बातें उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री माननीय सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कदिलापुर में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में 45 जोड़ों को बंधन पर बनने पर आशीर्वाद और शुभकामनाएं व्यक्त किया।

         मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा लड़की अपना घर छोड़ कर के पति के घर में प्रवेश करती है इसलिए पति को पति की जिम्मेदारी होती है कि इतना प्यार दे की कभी भी मायके की याद न आए।लड़की घर की लक्ष्मी होती है जितना ही संस्कारित घर होगा उतना उस घर में सुख शांति और समृद्धि बढ़ेगी। 

तदुपरांत 45 वैवाहिक जोड़ो में बंधने वाले जोड़ियों को प्रमाण एवं गहने देते फूलों से स्वागत कर आशीर्वाद प्रदान किए। ज्ञातव्य हो कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में बंधने वाले जोड़ो को लगभग 51 हजार रुपए तक सहायता शासन की दिए जाते है जिसमें 35 हजार रुपए सीधे खाते में प्रेषित किया जाता है 10 हजार की सामग्री तथा 6 हजार पूजा पाठ,भोजन आदि में खर्च का प्रावधान है।


5 प्रमुख महिलाओं को अगरबत्ती बनाने की मशीन एवं प्रमाण पत्र वितरित किए 

खादी व ग्रामोद्योग विभाग उत्तर प्रदेश से अगरबत्ती उद्योग के लिए प्रशिक्षित 50 महिलाओं के बीच 5 समूहों की 5 प्रमुख महिलाओं को अगरबत्ती बनाने की मशीन एवं प्रमाण पत्र वितरित किए।साथ ही कहा जल्द ही पांच केंद्रों पर आकर निरीक्षण भी करूंगा,देखूंगा की कैसे अगरबत्ती बनाकर महिलाएं आत्मनिर्भर बनकर स्वालंबी बन रही है। 

स्वयं सहायता समूह की सदस्यों (केयर टेकर) को प्रमाण पत्र देखकर प्रोत्साहित किया 

मशीन प्राप्त करने समूह की प्रमुख महिला लीलावती इस्माइलपुर कोटवा,शिवांगी साहू अकबरपुर सल्लाहपुर, कृष्णा अहमदपुर पावन, शन्नो देवी जयरामपुर तथा सीमा देवी धुस्सा पीपलगांव को मिला। उत्तर प्रदेश ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूह की सदस्यों (केयर टेकर) को प्रमाण पत्र देखकर प्रोत्साहित किया। 

सामुदायिक महिला एवं बाल शौचालय के देखभाल व सफाई के लिए स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को चाभी प्रदान की गयी थी जिसमें केयर टेकर को 6 हजार रुपए और तीन हजार रुपए की सामग्री प्रतिमाह दी जा रही है।उन्हें आज उल्लेखनीय कार्य के लिए प्रमाण पत्र प्रदान कर मंत्री ने किया। 

नवनिर्माणाधीन ब्लॉक का निरीक्षण किया और व्यवस्थित बनाने का निर्देश दिया 

नवनिर्माणाधीन ब्लाक भगवतपुर का निरीक्षण के दौरान मुख्य मार्ग से ब्लॉक परिसर तक के मार्ग पर अनियमित तरीके से बन रहे मकानों को देखकर गहरी नाराजगी जताई कहा यह गलत है विकास होना चाहिए मगर एक लेआउट के तहत व्यवस्थित ढंग से सड़क,बिजली,पानी निकासी की व्यवस्था तथा सीवरेज सहित होना चाहिए।क्योंकि जमीन बेचने वाला बेचकर भाग जाता है और जो व्यक्ति मेहनत की कमाई का जमापूंजी से जमीन खरीदता है मकान बनाता है।

फिर व्यवस्थित करने के अधिकारी ध्वस्तीकरण की कार्यवाही करते है। विधानसभा शहर पश्चिमी में कोई भी बिना लेआउट और नक्शा के मकान नहीं बनने चाहिए यह अधिकारियों की जिम्मेदारी है। निर्माणाधीन ब्लॉक को देख रहे तो सवालों का सही जबाब न देने पर जेई को कड़ी फटकार लगाई। ब्लॉक प्रमुख कक्ष भी बनना चाहिए।ब्लॉक तक आने वाले मार्ग पर नाली सहित पहले सड़क बनाना चाहिए।बीडीओ भगवतपुर को कड़ा निर्देश दिया। 

 इससे पहले बक्शी मोड़ा, सैदपुर तथा हरिहरा गौसपुर में चौपाल लगाकर जनसुनवाई किया।ग्राम प्रधानों को गांव में इंटरलॉकिंग मार्ग नाली सहित बनाने का निर्देश किया।निर्माण कार्य के गुणवत्ता और क्वालिटी पर विशेष रूप से निगरानी अवश्य करें।

चंद्रसेन गांव में भाजपा कर्मठ कार्यकर्ता स्व0 महिपत सिंह पटेल के घर पहुँचकर मंत्री ने उनकी पत्नी को आर्थिक सहायता प्रदान किया और आगे भी मदद करने का प्रयास रहेगा।स्व0 महिपत सिंह पटेल का कोरोना के दौरान मृत्यु हो गयी थी।

  इस मौके पर एसडीएम सदर विवेक चतुर्वेदी, नगर निगम अधिकारी गौरव रंजन, जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी राम औतार यादव,बीडीओ भगवतपुर, आराधना पाण्डेय, क्षेत्राधिकारी चायल,पिपरी एवं करेली थानाध्यक्ष सहित जोखई लाल साहू, प्रेम नारायण केसरवानी,बलवंत राव, सुरेश पासी,रामजी शुक्ला, ब्लॉक प्रमुख मालती देवी,ज्ञान बाबू केसरवानी, दीना नाथ कुशवाहा आदि मौजूद रहे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर