विश्व बैंक सहायतित प्रथम चरण के 04 कार्य प्रगति पर



लखनऊ ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग):उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य के कुशल दिशा-निर्देशन में विश्व बैंक सहायतित प्रथम चरण में चयनित 04 बड़े मार्गों का कार्य तेजी से प्रगति पर है, जिसमें 02 कार्य पूर्ण हो गये हैं उनपर केवल अनुरक्षण का कार्य चल रहा है और 02 कार्य लगभग पूर्ण होने की स्थिति में है।

 जिनके पूर्ण होने की टाइमलाइन नवम्बर 2021 का प्रथम सप्ताह लक्षित की गयी है। प्रथम चरण के 04 कार्यों की कुल लम्बाई 258.34 किमी0 है और लागत  1415.05 करोड़ है, जिसके सापेक्ष  1137.02 करोड़ धनराशि व्यय की जा चुकी है।

विभागाध्यक्ष लोक निर्माण विभाग श्री पी0के0 सक्सेना से प्राप्त जानकारी के अनुसार जनपद झांसी के गरौठा-चिरगांव मार्ग (लम्बाई 49.145 किमी) का कार्य  222.93 करोड़ व्यय कर शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है।

इसमें अनुरक्षण कार्य ठेकेदार द्वारा किया जा रहा है। इसी तरह हमीरपुर में हमीरपुर-राठ मार्ग (लम्बाई 72.785 किमी) का कार्य  307.18 करोड़ व्यय कर शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है, इसमें भी अनुरक्षण कार्य किया जा रहा है। 

लखमीपुर और शाहजहांपुर के अन्तर्गत गोला-शाहजहांपुर मार्ग (लम्बाई 57.300 किमी) का कार्य प्रगति पर है और इसका तीन चैथाई कार्य पूर्ण हो गया है, इस पर  275.74 करोड़ व्यय किये जा चुके हैं। इस कार्य को पूरा करने के लिये 09 नवम्बर 2021 की तिथि लक्षित की गयी है। 

जनपद अमरोहा और सम्भल में बदायुं-बिल्सी मार्ग (लम्बाई 79.120 किमी) का 84 प्रतिशत कार्य  331.17 करोड़ व्यय कर किया गया है। शेष कार्य प्रगति पर है, जिसको पूरा करने की टाइम लाइन 03 नवम्बर 2021 लक्षित की गयी है। विश्व बैंक सहायतित परियोजना में परियोजना की लागत की 70 प्रतिशत धनराशि विश्वबैंक द्वारा एवं 30 प्रतिशत धनराशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाती है।

उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि अवशेष कार्यों को निर्धारित तिथि तक अनिवार्य रूप से पूरा कराया जाना सुनिश्चित किया जाय।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर