जिलाधिकारी की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा सम्बन्धी समीक्षा बैठक सम्पन्न

 

 चित्रकूट (स्वतंत्र प्रयाग)जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में SHRESHTA (श्रीष्टा) के अंतर्गत अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को उत्कृष्ट आवासीय विद्यालय के चयन के संबंध में समिति के साथ समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में की गई। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिए कि सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण मंत्रालय भारत सरकार कि उस गाइडलाइन का पालन किया जाए, जिसमें अनुसूचित जाति के छात्रों को माध्यमिक स्कूलों में आवासीय शिक्षा परिषद के माध्यम से शिक्षा उपलब्ध कराया जाना है। सृष्टि के अंतर्गत प्रथम चरण में नीति आयोग द्वारा चयनित महत्वाकांक्षी जनपदों में लागू किया गया है, जिसमें जनपद चित्रकूट भी शामिल है। उन्होंने कहा कि एक या दो विद्यालय चिन्हित किया जाय, जिसमें उनको गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा मिल सके। उन्होंने कहा कि यह योजना भारत सरकार की है तथा इसमें नौवीं के 9 छात्र तथा ग्यारहवीं के 11 छात्र को निशुल्क एवं आवासीय चार्ज को सम्मिलित करते हुए विद्यालय द्वारा धनराशि की मांग की जाय, जिससे कि होनहार अनुसूचित जाति के छात्रों को उच्च गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान कर उनका उज्जवल भविष्य बनाया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना कॉल को देखते हुए आप मास्क, सैनिटाइजर तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए इस योजना का लाभ लेने के लिए उन बच्चों को ऑनलाइन या ऑफलाइन फॉर्म भरा जाय जिससे उनका चयन किया जा सके।

                      इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम, खंड विकास अधिकारी कर्वी चंद्र मोहन सिंह आदि संबंधित लोग उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी