पौधरोपण यज्ञ के समान फलदायक पवन जी

 

नैनी, प्रयागराज (स्वतंत्र प्रयाग) पौधरोपण किसी यज्ञ से कम नहीं होता, हमें चाहिए कि अपनी प्रकृति और वातावरण को शुद्ध बनाने के लिए अधिक से अधिक पौधरोपण करें जिससे जीवनदायिनी गैस की प्राप्ति के साथ-साथ प्रकृति और पर्यावरण का संतुलन बना रहे। वर्तमान परिवेश में मानव और मानवता को सहेजने के लिए अपनी इस अनमोल थाती को बचाने की आवश्यकता है। 

  यह बातें विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर अति पौराणिक स्थली अरैल घाट पर पौध रोपण करते हुए महाकाल आरती समिति के महंत पवन द्विवेदी ने कही। वरिष्ठ पर्यावरणविद् मनोज उपाध्याय ने कहा कि आज समय की जरूरत है कि असंतुलित होते पर्यावरण में ऑक्सीजन की भरपाई के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाए जाएं और इस महायज्ञ में हम सभी को अपना योगदान देने की जरूरत है।अपर जिला अधिकारी मनोज मिश्रा और विकास प्राधिकरण प्रयागराज के मुख्य अभियंता सौरभ दीक्षित ने भी मौके पर मौजूद लोगों को पौधरोपण और स्वच्छता का संकल्प दिलाया। इस मौके पर कई फलदार और छायादार पौधों का रोपण किया गया। इस दौरान डॉ प्रमोद शुक्ला,बबलू पांडे संतोष तिवारी समेत कई गणमान्य मौके पर मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें