पर्यावरण का संरक्षण हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है: दिनेश तिवारी

 

हर गांव में नीम, पीपल, बरगद और कदम का पौधा लगाने का लिया संकल्प

शंकरगढ़,प्रयागराज(स्वतंत्र प्रयाग) पर्यावरण का संरक्षण हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है। कोरोना काल में लोगों को आक्सीजन का महत्व समझ में आया। मौसम में होते बदलाव से यदि हम अभी भी नहीं चेते तो यह समस्या दिनों दिन बढ़ती जाएगी। यह बातें कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के मीडिया प्रभारी व भाजपा नेता दिनेश तिवारी ने कही। ग्रामसभा भोंडी के पंचायत भवन परिसर में पौधरोपण का शुभारंभ करते हुए दिनेश तिवारी ने कहा कि पर्यावरण का संरक्षण एक सामूहिक जिम्मेदारी है। पर्यावरण की सुरक्षा किसी एक केसक्रिय होने से नहीं हो सकती, इसके लिए समूचे समाज को आगे आकर अपना योगदान देना होगा, तभी इसकी सुरक्षा हो पाएगी और हम आने वाली पीढ़ी को हरा-भरा उपवन दे पाएंगे। 

भाजपा के वरिष्ठ नेता दिनेश तिवारी ने कहा हरे-भरे बगीचे और सडक़ों के किनारे लगे विशाल वृक्ष ही मानव को ऑक्सीजन प्रदान कर रहे हैं। हाल के कुछ वर्षों में इन पेड़ों की इतने बड़े पैमाने पर कटाई हुई कि गांव-गांव वीरानी छा गई। बाग-बगीचे खत्म हो गए और लोगों को सांस लेने के लिए अब आक्सीजन सिलेंडर का सहारा लेना पड़ रहा है। इस दौरान दिनेश तिवारी ने सभी ग्रामीणों के साथ संकल्प लिया कि जून, जुलाई और अगस्त के महीने में प्रत्येक गांव में 251 पौधे रोपे जाएंगे। 

दिनेश तिवारी की अगुवाई में अमरूद, नीम, नीबू, आंवला, कदम के 13 पौधे लगाए गए। इस दौरान वन विभाग शंकरगढ़ के रेंजर मनीष कुमार के साथ ग्राम प्रधान भोंडी प्रदीप सिंह, पूर्व मंडल अध्यक्ष भाजपा गोविंद देव पांडेय, होरीलाल केसरवानी, मनीष तिवारी, मान सिंह पटेल, अमित तिवारी, ध्रुव तिवारी, प्रमोद तिवारी, नानबाबू पाल, बनवारी आदिवासी, गोकुल आदिवासी, कौशलेश शुक्ल मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर