कोरांव में गेहूं खरीद केंद्रों का मंडलायुक्त ने किया निरीक्षण

 

केंद्र प्रभारियों को लगाई फटकार, बोरियों के अभाव पर जताई नाराजगी

कोरांव, प्रयागराज ( स्वतंत्र प्रयाग) मंडलायुक्त प्रयागराज संजय गोयल ने शुक्रवार को कोरांव में गेहूं खरीद केंद्रों का निरीक्षण कर तौल में की जा रही खामियों पर संबंधित केंद्र प्रभारियों को फटकार लगाई। सभी केंद्र प्रभारियों को शासन की गाइड लाइन के अनुसार किसानों के गेहूं की तौल कराए जाने का निर्देश दिया। कोरांव में धान खरीद में किसानों को काफी जलालत झेलनी पड़ी थी वही हालात गेहूं खरीद में भी बने हुए हैं। किसान 15 दिन के अधिक समय से अपने ट्रैक्टरों पर गेहूं लादकर क्रय केंद्रों पर खड़े हैं किंतु उनके गेहूं की तौल न हो पाने से उन्हें चिलचिलाती धूप व उमस भरी गर्मी में केंद्रों पर ठहरने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। लगातार मिल रही शिकायतों के सापेक्ष मंडलायुक्त प्रयागराज संजय गोयल ने उपजिलाधिकारी को कोरांव डॉ कंचन के साथ तहसील क्षेत्र के कई क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया। सजी क्रय केंद्र पर तौल की प्रगति धीमी होने पर केंद्र प्रभारी को जहां फटकार लगाई, वहीं कपुरी में बोरी का अभाव बताए जाने पर भी केंद्र प्रभारी को फटकार लगाते हुए नाराजगी जाहिर की। इसी प्रकार विपणन शाखा कोरांव के क्रय केंद्र का भी निरीक्षण करते हुए मंडलायुक्त व एसडीएम ने आवश्यक रजिस्टर व कागजात चेक किए। साधन सहकारी समिति बड़ोखर क्रय केंद्र का भी मंडलायुक्त के द्वारा निरीक्षण किया गया सभी क्रय केंद्र प्रभारियों को शासन के मंशानुसार किसानों के गेहूं की खरीद करने हेतु निर्देशित किया है। कहा है कि जिस भी केंद्र प्रभारी द्वारा गेहूं तौल में लापरवाही पाई जाएगी उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम डॉ कंचन ने भी कड़ा रुख अपनाते हुए सभी केंद्र प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि लगातार जांच व मॉनिटरिंग की जाएगी जिस भी केंद्र प्रभारी द्वारा तौल में लापरवाही पाई जाएगी उसके विरुद्ध सीधे मुकदमा पंजीकृत कराया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर