गंगा और शहर तभी स्वच्छ कर सकेगे जब हमारी सोच एक होगी:-दुकानजी



प्रयागराज (स्वतंत्र प्रयाग) शहर प्रयागराज के साथ नगर निगम के सफाई कर्मचारी गंगा के घाटों के किनारे दूर दराज से बह कर आ रही जल कुम्भी जो घाटो के किनारे लग रही जिससे भक्तों को नहाने मे परेशानी दिक्कत हो रही उस जल कुम्भी को भी हटाना और संस्थाओं द्वारा घाटो पर समय समय पर स्वच्छता अभियान कर इकट्ठा हुए कूड़े को उठा कर यथा स्थान पहुचाना जिससे सभी घाट साफ़ स्वच्छ बना रहे साथ ही कुछ लोग रात के समय अपने घर के कुडे को घाट के आसपास फेकने से जो गन्दगी उसे उठाने के साथ स्वच्छता के प्रति जागरूक करतें रहते हैं बरसात को देखते हुए जगह-जगह से नाले नालियों में कचरे जाम की स्थिति कर देते हैं।

                                     दुकानजी

उसे भी सफाई करना जिससे हमारा शहर गली मोहल्ले घाट साफ़ स्वच्छ बना रहे साथ ही लोगों को कहते आप अपने घर का कुडा करकट अपने घर के दो डस्टबिन में रखे उसे ईधर उधर न फेके सुबह गाडी आने पर ही उसमे डाले और अब आपके सुविधा के लिये सूखा कुडा गिला कुडा की गाड़ी और ट्राली रिक्सा आपके दरवाजे सिटि बजा कर कुछ ले रही है आप उसे दे जिससे न आपके आसपास गन्दगी नहीं फैलेगी वही नगर निगम के स्वच्छता ब्रांड एम्बेसडर दुकानजी लोगों को घूम घूम कर जागरूक करतें हुयें कह रहे है की अब हमे आपको अपनी सोच बदलनी पढ़ेगी।


 तभी हम अपने शहर के गली मोहल्ले को साफ स्वच्छ रख पायेंगे स्वच्छता सिर्फ नगर निगम की जिम्मेदारी नही है स्वच्छता को मजबूरी नहीं अपने संस्कारमे लाये तभी हम गन्दगीयो से होने वाली अनेको प्रकार की बिमारी से बच सकते हैं अब हम संकल्प ले की न गन्दगी करेगे न दूसरे को करने दे गे तभी हम अपने शहर गली मोहल्ले को एक स्वच्छ वातावरण के रूप मे देख सकेंगे आप सभी सहयोग करे साथ ही हमारे आपके लिए एक नासूर बन हमारे स्वास्थ्य को खराब करने मे कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही पालिथिन उसका बहिष्कार करें कपडे के झोले कागज के ठोगे कप ग्लास पत्तल कटोरी या मिट्टी के कुल्हण का हि प्रयोग करे

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर