गांजा तस्करी के बड़े रैकेट का रीवा पुलिस ने किया खुलासा, दो करोड़ के माल के साथ सात गिरफ्तार

 

रीवां (स्वतंत्र प्रयाग) रीवा पुलिस ने एक बड़े गांजा तस्करी रैकेट का खुलासा किया है। बलेनो और ट्रक कंटेनर से पुलिस ने ढाई करोड़ रुपये से अधिक का माल बरामद किया है, गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

बता दें कि एमपी में बड़े पैमाने पर गांजे की तस्करी हो रही है। ग्वालियर के बाद रीवा में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने दो करोड़ से अधिक के गांजे के साथ सात तस्करों को गिरफ्तार किया है। रीवा एसपी ने मुखबिर की सूचना पर यह कार्रवाई की है। ट्रक से इतनी बड़ी संख्या में माल बरामद किया गया है।पुलिस को सूचना मिली थी एक बड़े गिरोह कंटेनर ट्रक में गांजा रखकर तस्करी के लिए रीवा लाया जा रहा है। एसपी ने थाना प्रभारियों की टीम बनाकर रीवा जिले के गोविंदगढ़ सिलपरा के पास मुस्तैद कर दी। इसी बीच एक बलेनो कार में आती दिखी। पुलिस को देखकर कार चालक ने स्पीड बढ़ा दी, लेकिन पहले से मुस्तैद पुलिसकर्मियों ने बलेनो सवार दो युवक आनंद पटेल और आनंद साकेत को गिरफ्तार कर लिया।

इसी बीच बलेनो कार की तलाशी ली गई, जिसमें से एक क्विंटल गांजा बरामद किया गया है। इन्हीं आरोपियों की निशानदेही पर कंटेनर ट्रक, जिसका नंबर यूपी 21ए एएन 5455 रोका गया। ट्रक में चालक वसीम खान और यूनिस खान के साथ राजेश सिंह व विक्रम सिंह भी सवार थे। तलाशी के दौरान 15 क्विंटल 50 ग्राम गांजा बरामद किया है। बरामद गांजे की कीमत दो करोड़ 25 लाख रुपए आकी गई है। रीवा रेंज के आईजी उमेश जोगा ने बताया कि पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है। लंबे समय से गांजे की तस्करी में शामिल 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वाहन समेत इनके पास से ढाई करोड़ रुपये का गांजा बरामद किया गया है। उन्होंने टीम में शामिल पुलिसकर्मियों के लिए इनाम की घोषणा की है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर