कोविड मृतकों की संख्या व सरकारी आंकड़े के बीच फर्क क्यों:- प्रियंका वाड्रा

 

नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग) उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में पारस अस्पताल में 5 मिनट में 22 मरीजों की मौत की मॉक ड्रिल पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने मोदी और योगी सरकार पर निशाना साधा है। प्रियंका वाड्रा ने श्मशान घाटों तथा कब्रिस्तानों और कोविड मृतकों की संख्या के सरकारी आंकड़े के बीच फर्क पर सवाल उठाते हुए कहा, "कोविड से हुई मौतों के बारे में सरकार के आँकड़ों और श्मशानों-कब्रिस्तानों के आँकड़ों में इतना फर्क क्यों। मोदी सरकार ने आंकड़ों को जागरूकता फैलाने और कोविड वायरस के फैलाव को रोकने का साधन बनाने के बजाय प्रोपोगैंडा का साधन क्यों बना दिया।"एक अन्य ट्वीट में उन्होंने अपने 'जिम्मेदार कौन' अभियान के तहत सरकार के विरोधाभासी बयानों को उद्धृत किया -"प्रधानमंत्री : 'मैंने ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी।'मुख्यमंत्री : 'ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं। कमी की अफवाह फैलाने वालों की संपत्ति जब्त होगी।'मंत्री: 'मरीजों को जरूरत भर ऑक्सीजन दें। ज्यादा ऑक्सीजन न दें।'आगरा अस्पताल: 'ऑक्सीजन खत्म थी। 22 मरीजों की ऑक्सीजन बंद करके मॉकड्रिल की। ज़िम्मेदार कौन?

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरायइनायत में सराफा की दुकान से लाखों की लूट, दुकान खुलते ही चार पांच की संख्या में पहुंचे लुटेरों ने दिया घटना को अंजाम

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को