गुरुवार, 3 जून 2021

नीति आयोग के बिंदुओं में कमी नहीं होनी चाहिए- जिलाधिकारी

चित्रकूट ब्यूरो:(स्वतंत्र प्रयाग न्यूज़) जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आकांक्षी जनपद कार्यक्रम के अंतर्गत कृषि एवं जल संसाधन सेक्टर की समीक्षा बैठक संबंधित अधिकारियों के साथ की गई। जिलाधिकारी ने कृषि क्षेत्र में माइक्रो इरिगेशन, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कृषि ऋण, खरीफ एवं रबी की फसलों में वृद्धि, गुणवत्ता युक्त प्रमाणित बीज वितरण, इलेक्ट्रॉनिक मार्केट से जुड़ी मंडियों, गेहूं खरीद, न्यूनतम समर्थन मूल्य, खरीफ व रबी की मुख्य फसलों, अधिक मूल्य वाली फसलों, जनपद में कुल बोये जाने वाला क्षेत्रफल, पशुओं का टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, रिवर्स स्कोर, जल संचयन आदि नीति आयोग के विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन विभागों के नीति आयोग के बिंदुओं में कमी आई है उसमें प्रगति कराई जाए, ताकि जनपद की रैंकिंग अच्छी रहे। उन्होंने कहा कि नीति आयोग के बिंदुओं में जो भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार द्वारा दिशा निर्देश दिए गए हैं उसी के अनुसार उन बिंदुओं पर प्रगति कराई जाए संबंधित विभाग नीति आयोग के बिंदुओं की प्रगति पर किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें।

 बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, जिला कृषि अधिकारी बसंत कुमार दुबे, जिला उद्यान अधिकारी डॉ रमेश कुमार पाठक, डिप्टी आरएमओ संजय श्रीवास्तव, अधिशासी अभियंता जल निगम राजेंद्र कुमार सहित संबंधित अधिकारी तथा इंश्योरेंस कंपनी के सौरभ श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें