विगाहिया में एक ही दिन दो लोगों की मौत से गांव में छाया मातम



घूरपुर,प्रयागराज(स्वतंत्र प्रयाग)इलाके के एक ही गांव में दो लोगों की मौत हो जाने से गांव में मातम छा गया। गांव के अधिकतर घरों में चूल्हे नहीं जले।

विगाहिया गांव निवासी अखिलेश सिंह (45) पुत्र दूर्विजय सिंह बीएसएनएल कर्मी थे जिनकी तैनाती कर्बी मऊ में थी। बुधवार के दिन अपने कर्मी साथियों के साथ आफिसियल मीटिंग में लखनऊ गए थे। जहां पर शामको अचानक सीने में दर्द होने से मौत हो गई। मौत की सूचना पर परिजनो में कोहराम मच गया। जिनका शव गुरुवार की सुबह घर पहुंचा। वहींं इसी गांव के निवासी जगजाहिर सिंह (50) इरादतगंज बाजार में रसगुल्ला का दुकान था जिनका बुधवार की दोपहर सड़क पार करते समय बोलेरो की टक्कर से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिनकी इलाज के दौरान रात को मौत हो गई। गुरुवार की दोपहर पी एम हाउस से शव घर पहुंचा तो परिजनो में कोहराम मच गया। दोनो का शव गुरुवार के दिन ही गांव में पहुंचने से पूरे गांव में मातम छा गया। एक का सुबह तो दूसरे शव का शाम को अंतिम संस्कार किया गया। गुरुवार के दिन इरादतगंज बाजार का अधिकतर दुकानें बंद थी । महिलाओं की चीख पुकार से सभी के आंखे नम कर दी। अधिकतर घरों में चूल्हे नहीं जले।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी