जिला अपराध निरोधक समिति के सदस्यों ने किया रक्तदान, पौधरोपण और रक्तदान जीवन का अभिन्न अंग: आईजी

 


शंकरगढ़,प्रयागराज(स्वतंत्र प्रयाग)जिला अपराध निरोधक समिति के द्वारा शनिवार को रक्तदान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। रक्तदान महादान अभियान 2021 के तहत मेजा में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पुलिस महानिरीक्षक कवींद्र प्रताप सिंह ने भी सहभागिता की। 

आईजी ने कहा कि आप लोग बहुत ही भाग्यशाली हैं, जो गंगा मां के किनारे बसने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। इसलिए समस्त व्यक्तियों को सामाजिक आयोजनों में बढ़-चढ़कर हिस्सेदारी करना चाहिए। आईजी ने वहां पर उपस्थित थाना प्रभारियों को गंगा किनारे गांवों को चिन्हित करते हुए वृक्षारोपण कार्यक्रम का लक्ष्य दिया, साथ ही साथ यह भी कहा कि रक्तदान में सभी 18 से 65 वर्ष के व्यक्ति, यदि व स्वास्थ्य है, तो भागीदारी कर सकता है।अपर पुलिस अधीक्षक यमुनापार सौरभ दीक्षित ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम में जहां भी मेरी मदद की जरूरत हो, अवश्य बताएं। जनमानस की सेवा भाव ही हमारा कर्तव्य है। अंत में शिविर का समापन कराते हुए एसपी क्राइम आशुतोष मिश्र ने कहा कि समिति द्वारा कराए गए इस पुनीत कार्य के लिए साधुवाद देता हूं और समाज में फैले हुए अपराध पर रोकथाम के लिए आप सभी का सहयोग की अपेक्षा करता हूं। 

इसके पूर्व कार्यक्रम का शुभारंभ चीफ गेस्ट ने किया। इस मौके पर पुलिस मित्र प्रभारी आशीष कुमार मिश्र थाना प्रभारी मेजा एवं थाना प्रभारी मांडा अपने अधीनस्थों के साथ उपस्थित रहे। अंत में संस्था की तरफ से सभी रक्तदान करने वालों का आभार जताया गया।समिति के सचिव संतोष कुमार श्रीवास्तव, अभिषेक तिवारी, बीके पांडेय, अशोक सिंह, लक्ष्मीकांत मिश्र, शोएब आलम, संदीप सोनी, राजेश गौड़, आयुष जायसवाल, कुलदीप, विशाल श्रीवास्तव, अमित कुमार, अनुपम मिश्र, रमेश कुमार, अमित कुमार, अमन कुमार, शशि प्रकाश गुप्ता, कमलेश त्रिपाठी, दिग्विजय सिंह, लंकेश बाबू, संजय मिश्र, नरेंद्र मिश्र, हरिशंकर यादव, अलाउद्दीन भी रक्तदान शिविर में शामिल हुए।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर