नैनी पुलिस द्वारा भटकती हुई युवती को सुरक्षित परिवार को सौंपा गया

 


नैनी/प्रयागराज(स्वतंत्र प्रयाग)रास्ता भटकी कौशांबी की एक युवती को नैनी पुलिस ने उसके परिजन को सुरक्षित सौंप दिया। बेटी के सुरक्षित मिलने से परिजन की आंखें नम हो गई थी। वहीं नैनी पुलिस के इस सराहनीय कार्य की चर्चा दिन भर होती रही। नैनी कोतवाली के एसआई अमित कुमार सिंह रविवार शाम को राम नगर चौराहे से गुजर रहे थे। तभी उनको सड़क पर लगभग 30 वर्षीय एक युवती संदिग्ध हालत में दिखाई पड़ी। पूछताछ करने पर युवती कुछ भी बताने में असमर्थ रही। जिस पर दारोगा अमित कुमार सिंह ने एक ई रिक्शा बुक किया और महिला कांस्टेबल के माध्यम से उसे नैनी कोतवाली लेकर आए। इंस्पेक्टर सुजीत कुमार दुबे, एसएसआई सचिंद्र यादव व नैनी कस्बा पुलिस चौकी प्रभारी सुशील कुमार दुबे को दी। महिला कांस्टेबल की काफी मशक्कत के बाद युवती ने अपना नाम कौशल्या बताया। लेकिन वह अपने घर का पता नहीं बता पा रही थी। जिससे पुलिस एक बार फिर उलझ गई। अलबत्ता पुलिस ने काफी देर तक कोशिश कर उसके घर का पता पूछने मे कामयाब रही। फिर पूर्व प्रधान शिवशंकर दीक्षित के माध्यम से युवती के पिता से सम्पर्क हो सका जिसके बाद देर रात युवती के पिता नैनी कोतवाली पहुंचे। अपनी पुत्री को सुरक्षित पाकर गले लगकर रोने लगे। पिता ने बताया कि उसकी बेटी विवाहिता है और उसकी मानसिक हालत सही नहीं है। उसका इलाज भी संबंधित चिकित्सक से चल रहा है। पुलिस ने कागजी कोरम पूरा करते हुए युवती को उसके पिता को सुरक्षित सौंप दिया। युवती के पिता ने पुलिस को धन्यवाद दिया है। पुलिस के इस सराहनीय कार्य की चर्चा दिन भर बनी रही,



यमुना में युवक ने लगाई छलांग, शव बरामद


नैनी, प्रयागराज। नये यमुना पुल से कूदकर आत्महत्या करने की घटना थम नहीं रही है। बुधवार सुबह एक युवक ने भाई से मोबाइल फोन पर बात करने के बाद नये पुल से नदी में छलांग लगा दी। उसकी बाइक पुल पर ही खड़ी हुई थी। घटना को चौबीस घंटे नहीं बीते थे कि बृहस्पतिवार को दोपहर उसका शव पुल के नीचे उतराता मिला। शव की शिनाख्त मृतक के भाई प्रमोद सोनकर ने की है। प्रमोद ने बताया कि उसका भाई राजकुमार सोनकर पुत्र माता प्रसाद बुधवार सुबह घर से निकला। सुबह करीब साढ़े नौ बजे राजकुमार ने अपने भाई संदीप कुमार सोनकर को किसी अज्ञात नंबर से फोन कर कहा कि पुल पर बाइक खड़ी है, आकर ले जाओ। उसके बाद से उससे संपर्क नहीं हो सका। बृहस्पतिवार दोपहर को उसका शव नए पुल के नीचे मिला। नैनी पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। सूचना पर चचेरे भाई प्रमोद सोनकर ने मौके पर आकर मृतक के शव की शिनाख्त की।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर