नए नियमों के तहत पटना उच्च न्यायालय में पहली बार सीनियर वकील बनाया जायेगा


पटना (स्वतंत्र प्रयाग): पटना उच्च न्यायालय में वरीय अधिवक्ता बनने की चाह रखने वाले वकीलों को अब पारस्परिक विचार विमर्श (इंटरेक्शन प्रोग्राम) से गुजरना होगा ।पटना उच्च न्यायालय प्रशासन ने इस संबंध में नोटिस जारी कर बताया है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से 23 जून से 12 जुलाई तक चलने वाले इंटरेक्शन प्रोग्राम में प्रत्येक दिन दस वकील हिस्सा लेंगे। सभी 114 वकील जिन्होंने वरीय अधिवक्ता बनने के लिए हाईकोर्ट प्रशासन को आवेदन दिया है उन्हें 15 जून तक हाई कोर्ट प्रशासन के ई मेल पर अपना ई मेल, व्हाट्सएप नम्बर, नाम, पता तथा अपना एनरोलमेंट नम्बर भेजने का निर्देश दिया गया है।उच्च न्यायालय के कई जाने-माने अधिवक्ताओं ने बताया कि इससे पहले वरीय अधिवक्ता बनने के लिए उच्च न्यायालय के सभी न्यायाधीशों की एक बैठक होती थी । बैठक में एक एक वकीलों के बारे में विचार विमर्श कर उन्हें सीनियर बनाने के संबंध में फैसला लिया जाता था। सभी न्यायाधीश की वोटिंग के जरिए सीनियर एडवोकेट का नाम तय करते थे, लेकिन पहली बार पटना उच्च न्यायालय के इतिहास में नये नियमों के तहत वरीय अधिवक्ता बनने के लिए उन्हें इंटरेक्शन प्रोग्राम से गुजरना होगा

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर