गुरुवार, 3 जून 2021

संदिग्ध परिस्थितियों में लापता युवती का तालाब में मिला शव

 


भाभी के भाई की शादी में शामिल होने आयी थी युवती

कोरांव/प्रयागराज (स्वतंत्र प्रयाग) कोरांव थाना क्षेत्र के सेमरी बाघराय गांव के भैंसौड़ मजरे में एक दिल दहला देने वाली घटना से पूरे गाँव में सनसनी फैल गई। जहां भाभी के भाई की शादी में शामिल होने आई ननद की हत्या कर उसका शव गांव के ही तालाब में फेंक दिया गया। और तीन दिन बाद उसका शव उतारते हुए गांव के तालाब में मिलने से गांव में सनसनी फैल गई। जानकारी के मुताबिक सेमरी बाघराय भैंसौड़ गांव निवासी गेंदालाल कुशवाहा अपनी पुत्री प्रतिभा का विवाह खीरी थाना क्षेत्र के डाबर गांव में की है। गत 1 जून को गेंदालाल के बेटे पारसनाथ की बारात खीरी थाना क्षेत्र के सुजनी समोधा गांव में गयी थी। पारसनाथ के विवाह कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शिखा कुशवाहा पुत्री फूलचंद कुशवाहा निवासी डाबर थाना खीरी अपनी भाभी प्रतिभा के साथ भाभी के घर सेमरी बाघराय आई हुई थी। जहां से वह 31 मई को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई थी। परिजनों के द्वारा गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। 1 जून को पारसनाथ की बारात गई हुई थी। उधर विवाह की रस्म अदायगी चल रही थी कि सुबह गांव के ही तालाब में शिखा का उतराते हुए शव मिलने से सनसनी फैल गई। मामले की सूचना पुलिस को दी गई जिस पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना के बाद कोरांव पुलिस के अलावा क्षेत्राधिकारी मेजा भीम कुमार गौतम भी घटना का स्थलीय निरीक्षण कर ग्रामीणों से पूछताछ की और आवश्यक साक्ष्य और जानकारियां जुटाई। हालांकि पुलिस अभी हत्या के राज के तह तक नहीं पहुंच सकी है। शिखा की हत्या क्यों की गई हत्यारे कौन हैं आदि सब का खुलासा नहीं हो सका है। आखिरकार विवाह कार्यक्रम में शामिल होने आई युवती का संदिग्ध परिस्थितियों में लापता होना और बारात लौटने के दिन ही तालाब में शव मिलना क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। फिलहाल युवती की हत्या क्यों की गई यह जांच के बाद ही पता चल सकेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें