पत्रकारिता व पत्रकारों का गिरता स्वरूप चिंतनीय - गजेंद्र प्रताप सिंह



प्रयागराज जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के बैनर तले कोरांव में एक दिवसीय पत्रकारों के जागरूकता कार्यशाला का हुआ आयोजन

कोरांव/प्रयागराज (स्वतंत्र प्रयाग)प्रयागराज जर्नलिस्ट एसोसिएशन के द्वारा कोरांव कार्यालय पर स्थानीय पत्रकारों को अपने कार्य व दायित्व के प्रति जागरूक करने के लिए एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया। जहां प्रयागराज जर्नलिस्ट एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष गजेंद्र प्रताप सिंह ने उपस्थित पत्रकारों को पत्रकारिता व पत्रकारों के गिरते स्वरूप पर विस्तार पूर्वक समझाते हुए कहा कि पत्रकारों को निष्पक्ष होकर निर्भीकता के साथ किसी भी समाचार का संकलन लेखन करना चाहिए जिससे पत्रकार व समाचार पत्र पर किसी भी प्रकार की उंगली न उठ सके। साथ ही पाठकों का भी समाचार के प्रति विश्वास बना रहे। एसोसिएशन के अध्यक्ष गजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि आज प्रायः देखा जा रहा है कि क्षणिक क्षोभ व मोह में पत्रकार भी अपनी लेखनी को धार देने के बजाय मोड़ रहे हैं। जिससे जहां समाज में पत्रकारों का स्तर गिर रहा है वही पत्रकारिता भी सवालों के घेरे में आ रही है। संस्थापक अध्यक्ष ने कहा कि सभी पत्रकारों को सबसे पहले अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। उन्होंने कहा कि फेक न्यूज़ वह द्वेष बस लिखी गई खबरों से पत्रकारों के ऊपर जो सवालिया निशान लग रहे हैं वह चिंतनीय हैं। इसे पत्रकारों को खुद सुधारने की जरूरत है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो आने वाले समय में पत्रकारों का समाज में जो स्थान व वजूद है वह नहीं रह जाएगा। साथ ही पत्रकारिता खुद अपने पथ से विचलित हो जाएगी। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता से जुड़े लोग इस प्रकार की कार्यशालाओं में भाग लेकर पत्रकारिता क्या है, पत्रकारिता कैसे की जानी चाहिए आ दि सब पहलुओं की जानकारी करने के उपरांत ही खबरों का प्रकाशन करेंगे तो निश्चित तौर पर उनकी खबरों में गुणवत्ता आएगी और वह खुद एक सफल पत्रकार के रूप में समाज में सम्मान प्राप्त करेंगे। कार्यशाला में प्रमुख रूप से अजय प्रताप सिंह, शारदा प्रताप सिंह, सरस्वती प्रसाद मिश्र, आनंद तिवारी, अनुज कुमार कुशवाहा, खेमराज सिंह, शिवशंकर मिश्र, इंद्रेश कुमार, मनोज शर्मा, मनीष वर्मा, राजेश कुमार सिंह, अमित मिश्रा, अरविंद कुमार सिंह सहित कई पत्रकार मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरायइनायत में सराफा की दुकान से लाखों की लूट, दुकान खुलते ही चार पांच की संख्या में पहुंचे लुटेरों ने दिया घटना को अंजाम

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को