पत्नी की हत्या कर शव के पास ही बैठा रहा पति


कौशाम्बी(स्वतंत्र प्रयाग) कोखराज कोतवाली के जलापुर टेंगाई गांव स्थित मकान में एक विवाहिता का रक्तरंजित शव मिला। लाश के बगल में ही उसका पति कथित तौर पर बेहोश मिला। कमरे के अंदर रो रही उसकी बच्ची की आवाज सुनकर मोहल्ले के लोग वहां पहुंचे। ग्रामीणों ने खिड़की खोलकर देखा तो उन्हें घटना के बारे में जानकारी हुई। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने खिड़की तोड़वाकर शव बाहर निकलवाया। इस दौरान पुलिसवालों ने महसूस किया पति की सांसे चल रहीं हैं, पुलिस ने पानी का छीटा मारा तो वह होश में आ गया। इसके बाद पुलिस ने पति से कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गया और हत्या की बात कुबूल कर ली। उसने बताया कि उसे पत्नी के चरित्र पर शक था, इसलिए उसे मौत के घाट उतार दिया।

जलापुर टेंगाई गांव का राकेश किसानी करता है। आठ साल पहले उसकी शादी लक्ष्मी के साथ हुई थी। शादी के बाद दंपती ने एक बेटे रंजीत व एक बेटी रोशनी को जन्म दिया। रोशनी की अभी महज सात माह की है। पिछले कुछ दिनों से लक्ष्मी व राकेश के रिश्तों में खटास थी। तब से पति-पत्नी के बीच बोलचाल भी नहीं थी। मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे राकेश के घर से रोशनी के जोर-जोर से रोने की आवाज मोहल्ले वालों को सुनाई दी। इसके बाद भी घर का दरवाजा नहीं खुला तो लोग आशंकित हो गए। राकेश का बेटा रंजीत घर के बाहर ही खेल रहा था। आशंकावश लोगों ने खिड़की के पल्ले को धक्का दिया तो वह खुल गया। अंदर का दृश्य देख मोहल्ले के लोग सन्न रह गए। लक्ष्मी का शव बेड पर पड़ा था और उसके सिर से खून रिस रहा था। पास में ही राकेश औंधे मुंह पड़ा था। दंपती की मौत की खबर लेकर गांव में फैल गई। आननफानन मामले की जानकारी पुलिस को दी गई।

सूचना पर एएसपी समर बहादुर, सीओ सिराथू योगेंद्र कृष्ण नरायण सिंह, इंस्पेक्टर कोखराज पीके राय फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस खिड़की तोड़कर अंदर दाखिल हुई तो देखा कि लक्ष्मी की मौत हो चुकी थी जबकि राकेश की सांसें चल रहीं थीं। उसके मुंह पर पानी का छीटा मारा गया तो पता चला कि वह बेहोशी का ड्रामा कर रहा था। इसके बाद पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ शुरू की तो उसने पत्नी की हत्या की बात कुबूल कर ली। पुलिस ने लक्ष्मी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।


आशनाई में पति ने की हत्या

पुलिस के अनुसार घर का दरवाजा व खिड़की अंदर से बंद होने व मकान में अंदर जाने का अन्य रास्ता नहीं होने के कारण पुलिस को राकेश पर शक हुआ। पुलिस ने राकेश को गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ की तो वह टूट गया। राकेश ने बताया कि उसकी पत्नी का चरित्र ठीक नहीं था। इसी वजह से अक्सर झगड़ा होता था। दो महीने पहले हुए झगड़े के बाद से लक्ष्मी उससे बात तक नहीं कर रही थी। इसी वजह से सुबह उसने बेटे को घर से बाहर निकालने के बाद लक्ष्मी को सब्बर से पीटकर मार डाला। पुलिस ने राकेश को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त सब्बर बरामद कर लिया है।


एएसपी समर बहादुर सिंह ने बताया कि जलालपुर टेंगाई गांव में विवाहिता की हत्या होने की खबर के बाद पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची। पुलिस ने देखा कि जिस कमरे में शव था वहां राकेश के अलावा अन्य कोई नहीं था। कमरे का दरवाजा भी अंदर से बंद किया गया था। इस वजह से राकेश से पूछताछ की गई तो उसने हत्या की बात कुबूल कर ली। 

 

गाय को चारा देने के बाद वारदात को दिया अंजाम

मोहल्ले वालों के अनुसार राकेश ने गाय पाल रखी है। मंगलवार सुबह रोज की तरह ही उसने अपनी गाय को चारा दिया। इस दौरान उसका बेटा रंजीत बाहर आकर खेलने लगा। इसके बाद राकेश फिर से घर में चला गया। इस बीच जब रोशनी के रोने की आवाज आई तो मोहल्ले के लोगों को घटना के बारे में जानकारी हुई।

 

भूख से बिलबिला रही थी रोशनी

मौका मुआयना के बाद पुलिस ने अनुमान लगाया कि शायद मृतका लक्ष्मी अपनी बेटी रोशनी को दूध पिलाने जा रही होगी। जिस बेड पर लक्ष्मी का शव पड़ा था, उसी के पास में बॉटल निपल भी मिला। चर्चा रही कि जिस वक्त लक्ष्मी बेटी के लिए दूध बना रही होगी तभी राकेश ने उस पर हमला कर दिया। इसके बाद खुद भी खुदकुशी करने का नाटक करने लगा। लक्ष्मी मर चुकी थी और राकेश नाटक किए लेटा था। इस वजह से भूखी बच्ची जोर-जोर से रोने लगी तब जाकर मोहल्ले के लोगों को जानकारी हो सकी। 

 

सनकी है राकेश, अब हो रहा पछतावा

पत्नी की हत्या में गिरफ्तार राकेश को पछतावा हो रहा है। उसने हत्या तो कर दी, लेकिन अपनी जान देने में वह डर गया। पहले नाटक रचा कि दोनों ने खुदकुशी की, लेकिन किस्मत से वह बच निकला। लेकिन जब पुलिस ने कड़ाई की तो वह सच उगल बैठा। घटना को लेकर अब उसे पछतावा हो रहा है। गांव के लोगों का कहना है कि राकेश सनकी दिमाग का था। पत्नी से उसका अक्सर विवाद होता था। इसके अलावा गांव व मोहल्ले वालों के प्रति भी उसका व्यवहार ठीक नहीं था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर