2021 में झमाझम बारिश के आसार ,केरल में मानसून ने दी दस्तक,

नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग): दक्षिण-पश्चिम मॉनसून ने दो दिन की देरी से आज केरल में दस्तक दे दी। केरल में मानसून पहुंचने के साथ देश में बारिश के चार महीने के मौसम की शुरुआत हो गई। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय मोहपात्र ने कहा, ‘‘दक्षिण पश्चिम मानसून ने केरल के दक्षिणी हिस्सों में दस्तक दे दी है।’’ केरल में आमतौर पर दक्षिण पश्चिम मानसून एक जून तक पहुंचता है।केरल के तट पर पहुंचा ।

इससे पहले आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बताया था कि दक्षिण-पश्चिम मानसून (जून-सितम्बर) की वर्षा सामान्य सामान्य दीर्घावधि औसत (एलपीए) के 96 से 104 प्रतिशत होने की संभावना है। उनके अनुसार मात्रात्मक रूप से देश में मानसून की बारिश के एलपीए के 101 प्रतिशत होने की संभावना है। 

केरल में आमतौर पर मानसून एक जून को पहुंचता है। आईएमडी ने इससे पहले मानसून के यहां 31 मई या इससे चार दिन अधिक या पहले पहुंचने का अनुमान लगाया था, लेकिन 30 मई को उसने कहा था कि केरल में अभी मानसून आने की स्थिति नहीं बनी है, फिर गुरुवार को मानसून की दस्तक की बात कही थी। मौसम विभाग के महानिदेशक ने कहा था कि कर्नाटक तटीय इलाके में चक्रवातीय परिसंचरण से दक्षिण-पश्चिम मानसून का आगे बढऩा बाधित हुआ है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिलाधिकारी ने विकास खण्ड करछना, मेजा एवं कोरांव में आयोजित गरीब कल्याण मेले में पहुंचकर विभिन्न विभागों के द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का किया अवलोकन

विभिन्न आयु वर्गो हेतु चयन ट्रायल 15 अगस्त को

जिलाधिकारी ने थाना मऊ में समाधान दिवस के अवसर पर सुनी जनता की समस्यायें