सोमवार, 31 मई 2021

मास्क ही जीवन का सबसे बड़ा सुरक्षा कवच है : सिद्धार्थ नाथ सिंह

 


सिद्धार्थ नाथ सिंह ने शोक संतप्त कई गांव के परिजनों के बीच पहुँच कर शोक संवेदना व्यक्त किया 

प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग न्यूज़): आज के दौर में मास्क ही जीवन का सबसे बड़ा सुरक्षा कवच है यह बातें उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह अचानक बकराबाद बमरौली गांव में एक महिला के अनुरोध पर पहुँचे जहाँ काफी संख्या में युवाओं द्वारा मास्क न पहनें हुए देखा तो गाड़ी रोक कर युवाओं को मास्क वितरित करने के दौरान कहीं।

बमरौली गांव के बकराबाद की रहने महिला राधा देवी ने पूरामुफ्ती जा रही मंत्री की गाड़ी रोकवा कर गांव की समस्याओं का स्थलीय निरीक्षण कर समस्या समाधान का बहुत आग्रह किया तो मंत्री ने तुरंत संज्ञान लिया और गांव पहुँचे तो गांव में काफी संख्या में युवाओं का झुंड बिना मास्क के इकठ्ठा थे जो पुलिस की गाड़ी देखकर भागने लगे तो मंत्री गाड़ी से उतर गए युवाओं को बुलाकर मास्क देते हुए कहा कि कोरोना महामारी का वायरस बहुत ही खतरनाक है पिछले डेढ़ साल से पूरा भारत झेल रहा है,बिना मास्क के वजह से कई लोगों ने अपनों को खोया है।लापरवाही जीवन का दुश्मन है।युवाओं को आगे बढ़कर समाज का मिसाल बनना चाहिए और घरों में पिता माता भाई बहन तथा रिश्तेदारों को प्रेरित करना है वैक्सीनेशन कराना है मास्क पहनना है अपने हाथों को बराबर धोना या सैनिटाइजर लगाते रहना है तभी कोरोना को परास्त करेंगे तो यूपी सहित भारत के वासी जीतेंगे।युवा राष्ट्र की कमान है समाज में जागरूक युवा के रूप भूमिका निभाएं।तभी तीसरी लहर नहीं आएगी। जिस तरह देश की सीमा पर राष्ट्र की सुरक्षा के लिए सैनिक खड़े है उसी तरह हर नागरिक कोरोना योद्धा बनकर देश के अंदर कोरोना वायरस को परास्त करना है यह कार्य युवा ही कर सकता है।युवा मास्क पाकर संकल्प लिया खुद मास्क पहनेंगे और गांव में सभी लोगों को वैक्सीनेशन कराने एवं मास्क पहनने के लिए प्रेरित करेंगे।



   मंत्री गांव की तंग गलियों में पैदल चलकर पहुँचे तो राधा देवी ने बताया कि पूरे गांव की नाली का पानी निकासी न होने की वजह से चलना निकलना पिछले 20-25 वर्षों से जीवन कठिन हो गया है प्रधान द्वारा नही कराया गया अब नगर निगम में आ गया है,मंत्री ने मौके पर देखा,वही गांव की रेखा ने बताया एन0एम0सेंटर बमरौली की भूमि को भूमाफियाओं द्वारा कब्जा कर लिया गया है।जिस पर एसडीएम और थानाध्यक्ष को निर्देशित किया कि तत्काल स्वास्थ्य केंद्र की भूमि से कब्जा हटें और पानी निकासी की व्यवस्था बनें और राधा देवी एक साहसी महिला है जो गांव की प्रमुख समस्या के समाधान के लिए पुरजोर तरीके अपनी बात रखी।

          तत्पश्चात मुंडेरा में धनंजय सिंह पटेल, टिकरी उपरहार में शत्रुघ्न प्रधान, बिहका गांव में अनिल मौर्या,फतेहपुर घाट में राहुल यादव,मादपुर में अशोक पटेल तथा लीडर रोड मंत्री पीआरओ विजय मेहरोत्रा के घर पहुँचकर शोक संवेदना व्यक्त किया और कहा शोक संतप्त परिवार के साथ सदैव खड़ा हूँ हर संभव मदद करूंगा। मौके पर एसडीएम सदर,थाना प्रभारी पूरामुफ्ती आशुतोष तिवारी,कमलेश कुमार,रामजी शुक्ला,दीना नाथ कुशवाहा,पार्षद अनिल कुशवाहा,पवन श्रीवास्तव, अजय राय,नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य रेखा, सुरेश पासी,राम नरेश सिंह पटेल, दिनेश तिवारी आदि रहे ।

        

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें