नमाज़े ईद न मिले तो घर पर अदा करें नमाज़े चाश्त-क़ाज़ी ए शहर 

 


कौशाम्बी,(स्वतंत्र प्रयाग ) क़ाज़ी ए शहर कौशाम्बी हज़रत मुफ़्ती खुशनूद आलम एहसानी साहब, ने 29 रमज़ानुल मुबारक को ईद का चांद न होने पर 30 का एतबार करते हुए एलान किया है, कि ईदुल फित्र 25 मई 2020 को है।


उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण चल रहा है ,इस लॉकडाउन में जिन एहतियाती उपाय का एलान किया गया है उनका पालन करें।


नमाज़े ईद के सम्बंध में शहर काज़ी कौशाम्बी मुफ़्ती ,खुशनूद आलम एहसानी ने अपने जारी बयान में बताया ,कि जुम्मा की जो शर्तें हैं ,वही शर्तें ईद के लिए भी हैं।


 सेवाए खुतबा के की खुतबा जुम्मा  में शर्त है ,और ईद में सुन्नत जैसा कि दुर्र मोख्तार मा शामी भाग 3 पृष्ठ संख्या 283 और 284 पर लिखा है।


शहर काज़ी ने कहा कि मौजूदा हालात में हम नमाज़े ईद अदा करने से आजिज़ हैं ,लेहाज़ा ईद की जगह अपने -अपने घरों में चार ,रकाअत चाश्त की नामाज़ अदा करें ।


दुर्र मुख्तार मा शामी भाग 3 पृष्ठ संख्या 306 पर है ,कि जब कोई शख्स नामाज़े ईद पढ़ने से आजिज़ हो तो वो चार रकाअत  नामाज़े चाश्त पढ़े,मगर ये नामाज़े चाश्त मुस्तहब है ,ईद की क़ज़ा नही ,
जैसा कि शामी शरीफ भाग 3 पृष्ठ संख्या 59 पर है ।


शहर काजी ने अंत मे अपील की है ,कि जो पैसा हम ईद की खुशी में खर्च करते थे ,वो पैसा हमे चाहिए कि, हम गरीबों पर खर्च करें ,और उनका खास खयाल रखें उनकी हर तरह से मदद करें।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुरा छात्र एवं विंध्य गौरव ख्याति समारोह बड़े शानोशौकत से हुआ सम्पन्न

प्रयागराज में युवक की जघन्य हत्या कर शव को शिव मंदिर के समीप फेंका , पुलिस ने शव को लिया अपने कब्जे में

विधालय का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का सामान किया चोरी