मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ 9 प्रत्यासियो को अब यम यल सी बनने का रास्ता हुआ साफ


मुंबई,(स्वतंत्र प्रयाग), महाराष्ट्र विधान परिषद के चुनाव में मंगलवार को तीन उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया है और एक निर्दलीय उम्मीदवार का नामांकन रद्द कर दिया गया है  ऐसे में मुख्यमंत्री उद्धव बालासाहेब ठाकरे सहित 9 उम्मीदवारों का विधान परिषद सदस्य बनने का रास्ता साफ हो गया है।


विधान भवन के मुख्य चुनाव अधिकारी के अनुसार, विधान परिषद की रिक्त 9 सीटों के लिए कुल 14 उम्मीदवारों ने नामांकन किया था मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के संदीप सुरेश लेले, डॉ.अजीत माधवराव गोपछड़े और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के किरण जगन्नाथ पावसकर ने अपना नामांकन वापस ले लिया।


जबकि निर्दलीय उम्मीदवार सहबाज अलाउद्दीन राठोड़ के आवेदन में आवश्यक समर्थक विधायकों के हस्ताक्षर नहीं थे  इसलिए उनका नामांकन रद्द कर दिया गया है  चुनाव निर्णय अधिकारी ने बताया कि शिवसेना की ओर से उद्धव बालासाहेब ठाकरे, डॉ. नीलम दिवाकरराव गोऱ्हे, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से शशिकांत जयवंतराव शिंदे, अमोल रामकृष्ण मिटकरी, कांग्रेस पार्टी की ओर से राजेश धोंडीराम राठोड और भाजपा के गोपीचंद कुंडलिक पडलकर, प्रवीण प्रभाकरराव दटके, रणजितसिंह विजयसिंह मोहिते- पाटील व रमेश काशीराम कराड के नामांकन सही पाए गए हैं।


इस तरह विधानपरिषद की 9 रिक्त सीटों के लिए 9 उम्मीदवार ही मैदान में बचे हैं   ऐसे में मुख्यमंत्री सहित सभी 9 उम्मीदवारों का विधान परिषद सदस्य बनने का रास्ता साफ हो गया है लेकिन चुनाव आयोग की सहमति के बाद ही इसकी घोषणा की जाएगी।