लखनऊ में संक्रमितों की संख्या पहुची 262 , कैसरबाग  में मिले पांच मरीज , नर्सिंग होम हुआ सील



लखनऊ,(स्वतंत्र प्रयाग) सप्ताह में तीन बार राहत के बाद रविवार को राजधानी केकैसरबाग सब्जी मंडी इलाके में पांच और कोरोना के मरीज पाए गए  इससे इलाके में एक बार फिर दहशत मच गई है  इनमें चार पुरुष और एक महिला शामिल है  सभी को लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया गया है  ऐसे में राजधानी लखनऊ में कोरोना मरीजों की संख्या 262 हो गई है अब तक 210 लोग कोरोना के प्रकोप से बाहर आ चुके हैं।


नर्सिंग होम सील


इसके अलावा राजेंद्र नगर नर्सिंग होम को संक्रमित पाए जाने पर सील कर दिया गया है यहां पर परिवार को  संक्रमित पाई गई महिला आठ मई को इलाज के लिए गई थी महिला के संपर्क में आए डॉक्टर समेत अन्य स्टाफ की सूची सीएमओ कार्यालय से मांगी गई है  एसीएमओ डॉ. अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि महिला द्वारा अस्पताल में दिखाने की बात पता चलने पर उसे 48 घंटे के लिए सील किया गया है  स्टाफ के नमूने भी लेकर जांच को भेजे जा रहे हैं।


 


रविवार को भेजे 150 नमूने


सीएमओ की टीम ने रविवार को कोरोना संक्रमित विभिन्न क्षेत्रों से 150  लोगों के नमूने लेकर जांच को भेजा है कैसरबाग सब्जी मंडी और मछली मोहाल से सर्वाधिक नमूने लिए गए   साथ ही पांडेयनगर, अमीनाबाद, भूसामंडी और नाका क्षेत्रों में भी लोगों की जांच की गई इन सभी की रिपोर्ट सोमवार को आएगी  प्रशासन का कहना है कि संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लगातार कोशिश की जा रही है  हॉटस्पॉट एरिया में निगरानी ओर कड़ी की जा रही है।


24 और मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे


वहीं, रविवार को 24 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे  ये सभी मरीज रामसागर मिश्र (आरएसएम) अस्पताल, लोकबंधु अस्पताल और  एसजीपीजीआइ से डिस्चार्ज किए गए हैं  आरएसएम अस्पताल से 10, लोकबंधु से नौ व एसजीपीजीआइ से रविवार को पांच मरीजों को छुट्टी दी गई  आरएसएम अस्पताल के डॉक्टर पराग सक्सेना ने बताया कि यहां से 10 मरीजों को छुट्टी दी गई  इनमें से छी मरीज दिल्ली के व चार राजधानी के हैं।


इनमें से एक मरीज सहादतगंज, एक आइआइएम रोड पावर हाउस का, एक नाका और एक सदर क्षेत्र का है डिस्चार्ज होने वालों में दो महिलाएं भी शामिल हैं  इस अस्पताल से अब तक 73 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं और 27 का अभी भी इलाज चल रही है।


वहीं, लोकबंधु अस्पताल से डिस्चार्ज होने वाले नौ मरीजों में छह कैसरबाग सब्जीमंडी के दो तब्लीगी जमात रायबरेली के और एक सीतापुर का मरीज शामिल है  जबकि 18 मरीज अभी भी भर्ती है  वहां पीजीआइ से छुट्टी पाने वाले छह मरीजों में पांच मरीज लखनऊ और एक सुल्तानपुर निवासी हैं इन सभी को 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर