शादियो में आये मेहमान फंस गए लॉकडाउन में , सूरजपुर जिले में 4 राज्यो के 50 लोग एक महीने से है क्वारेंटाइन


 


सूरजपुर,(स्वतंत्र प्रयाग), शादियों में अलग-अलग 4 राज्यों  से आए लोग जिले में फंस गए हैं, इनमें झारखंड, पश्चिम बंगाल व बिहार के लोग शामिल हैं, प्रशासन सभी पर निगरानी रखते हुए उन्हें घर पर ही रहने की सलाह दी है। राशन और अन्य जरूरत की चीजों को लेकर प्रशासन इनकी मदद कर रहा है। सभी लोग अब लॉकडाउन खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं। घर न पहुंच पाने का दर्द इनके दिलों में साफ झलक रहा है।



जाने की इजाजत नही मिली


सतपता निवासी इमरान कादरी की बारात बिहार के औरंगाबाद गई थी। 22 मार्च को बारात लौटने के बाद दावत का कार्यक्रम था। प्रशासन ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दावत न करने की सलाह दी। 


रामानुजनगर निवासी सद्दाम हुसैन की शादी कोरिया जिले में हुई है,  उनकी शादी में शामिल होने के लिए कई जगह से रिश्तेदार पहुंचे हुए थे,  बारात 22 मार्च को लौटी, इसके बाद लॉकडाउन शुरू हो गया इस बीच कुछ रिश्तेदार तो अपने घरों की ओर निकल गए, लेकिन इंदौर और उज्जैन से आए दस रिश्तेदार फंस गए हैं। लोगों ने प्रशासन से अनुमति मांगने का प्रयास किया, लेकिन अनुमति नहीं मिल सकी।



अधिकारी पूछ रहे हाल चाल 


नायब तहसीलदार गरिमा सिंह ने बताया- सभी लोगों की निगरानी की जा रही है। अधिकारी घर पर पहुंचकर हालचाल पूछ रहे हैं। प्रशासन ने गैस सिलेंडर और राशन की व्यवस्था की है। एहसान नाम के युवक ने बताया- परिवार में शादी थी। बारात में शामिल होने के लिए आए 40 रिश्तेदार फंस गए। 30 मार्च को प्रशासन ने सभी 40 रिश्तेदारों और 11 परिवार के सदस्यों को होम क्वारैंटाइन कर दिया है। सभी रिश्तेदार औरंगाबाद बिहार, जमशेदपुर झारखंड और पश्चिम बंगाल के रहने वाले हैं।