गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

मुरादाबाद में डॉक्टरों तथा पुलिस पर पत्थर फेंकने वाले 17 लोग हुए गिरफ्तार ,देश द्रोह का मुकदमा दर्ज, जमाती को छिपाने वालो  से होगी वसूली



लखनऊ,(स्वतंत्र प्रयाग) प्रदेश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है इसको देखते हुये उत्तर प्रदेश सरकार ने तय किया है- जिन जिलों में कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है, अब वहां भी हर दिन 20 लोगों के सैंपल लिए जाएंगे वहीं, कोरोना से ज्यादा प्रभावित आगरा, मेरठ, सहारनपुर, लखनऊ, शामली और नोएडा जिलों में चिह्नित हॉटस्पॉट वाले इलाकों से हर दिन 200 लोगों के सैंपल लिए जाएंगे।


इस बीच, मुरादाबाद में पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों की टीम पर पथराव करने के आरोप में 7 महिलाओं समेत 17 लोगों को गिरफ्तार किया गया है झांसी में एक क्वारैंटाइन सेंटर की जांच के दौरान 61 लोग लापता मिले  राज्य में गुरुवार को 21 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई।


इसके साथ ही यहां संक्रमितों की कुल संख्या 773 हो गई  इनमें 447 तब्लीग जमाती हैं  केजीएमयू की रिपोर्ट में उन्नाव में भी पहला मरीज सामने आया है. लखनऊ में दो, जबकि आगरा में 18 नए मरीज मिले हैं अब आगरा में 167 संक्रमित हो गए हैं लखनऊ में कोरोना के 77 मरीज हैं।


गुरुवार को कोरोनावायरस के संक्रमण से 13वीं मौत हो गई है  सबसे ज्यादा आगरा में 5 लोगों की मौत हुई है  मुरादाबाद के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उपद्रव में शामिल लोगों के खिलाफ लोक संपत्ति क्षति निवारण अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम, महामारी अधिनियम और अपराध संशोधन अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।


उन्होंने कहा कि उपद्रव से हुए नुकसान की भरपाई भी आरोपियों से की जाएगी  बता दें की उत्तरप्रदेश के 48 जिले संक्रमण से प्रभावित हैं कुल मरीज 748 हैं इनमें से सबसे ज्यादा 167 रिपोर्ट आगरा में पॉजिटिव आई हैं।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें