मेरी पहली प्राथमिकता है टेस्ट टीम में वापसी करना: जयदेव उनादकत



नई दिल्ली,(स्वतंत्र प्रयाग) तेज गेंदबाज जयदेव उनादकत ने कहा है कि उनकी प्राथमिकता भारतीय टेस्ट टीम में वापसी करना है उनादकत ने दिसंबर 2010 में 19 साल की उम्र में भारत के लिए अपना अभी तक का इकलौता टेस्ट मैच खेला था  वह हालांकि भारत के लिए सात वनडे और 10 टी-20 मैच खेल चुके हैं।


उनादकत ने अपनी आईपीएल टीम राजस्थान रॉयल्स के साथी ईश सोढ़ी के साथ फ्रेंचाइजी के फेसबुक पेज पर बात करते हुए कहा, “मैं लाल गेंद से गेंदबाजी करना पसंद करता हूं मुझे एक टेस्ट मैच खेलने के बाद दूसरा मैच खेलने का मौका नहीं मिला इसलिए यह बात मेरे दिमाग में चलती रहती है।


इस समय हालांकि भारतीय टीम में प्रतिद्वंद्विता काफी कड़ी है मैं कह सकता हूं कि अभी तक सबसे मजबूत ” भारतीय टीम का तेज गेंदबाजी आक्रमण इस समय शानदार है ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार के हाथों में इसकी बागडोर है और इनमें से किसी को भी मौका मिलता है तो सभी अच्छा करते हैं।


बाएं हाथ के इस गेंदबाज ने साथ ही कहा कि वह खेल के अन्य प्रारूपों में भी बेहतर होना चाहते हैं  उन्होंने कहा, “हाल के दिनों में छोटे प्रारूप मेरी ताकत रहे हैं  अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में किसी एक प्रारूप का विशेषज्ञ नहीं बनना चाहता हूं बल्कि में विविधता वाला गेंदबाज बनना चाहता हूं क्योंकि मैं सभी प्रारूप में जगह बनाना चाहता हूं ”।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर