लॉरेल्स स्कूल के ऑनलाइन कक्षाओं के विद्यार्थी ले रहे है लाभ



प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग),आज जब लाकडाउन की वजह से बच्चे तो बच्चे , बड़े भी घर में कैद हैं , सबसे बड़ी समस्या बच्चों की पढाई है।


ऑफिस और दुकाने तो शायद कुछ दिन में खुल जाएगी, पर स्कूल कॉलेज खुलने की कोई संभावना निकट भविष्य में नहीं दिख रही है, इस दिशा में सीबीएसई की अध्यक्ष अनीता करवाल ने स्कूलों को ऑनलाइन पढाई शुरू करने के सलाह दी है, इसी दिशा में आगे  बढ़ते हुए लॉरेल्स इंटरनेशनल स्कूल, प्रयागराज ने ज़ूम मीटिंग सॉफ्टवेयर, गूगल क्लासरूम, स्वयंप्रभा , दीक्षा , खान अकादमी आदि सॉफ्टवेयर  और ऑनलाइन पोर्टलों का उपयोग करते हए ऑनलाइन कक्षाएं शुरू  की हैं।


 प्रिंसिपल डॉ अरुण प्रकाश ने बताया की १० बजे से ३ बजे तक ४० मिनट के पीरियड बनाये गए हैं। उन्होंने बताया की क्लास के पहले पीडीऍफ़, वीडियो आदि के द्वारा पढाई से सम्बंधित पाठन सामग्री पहले ही भेज दी जाती है। ऑनलाइन ज़ूम मीटिंग के माध्यम से टीचर विषय को समझाते हैं और बच्चे भी अपनी समस्यायों का समाधान प्राप्त कर लेते हैं ।


डॉ प्रकाश ने बताया की मोबाइल ऐप की सहायता से स्कूल की सारी किताबें बच्चों को उपलब्ध कराई जा रहीं हैं। उन्होंने बताया कि लॉरेल्स ग्लोबल, यू.के.  के चेयरमैन अन्थोनी ऑस्टिन ने सारी दुनिया में प्रयोग में लाई जा रही अच्छी से अच्छी ऑनलाइन सामग्री स्कूल को प्रदान करना शुरू कर दिया है जिसे स्कूल कि वेबसाइट में अपलोड किया जा रहा है, जिसको अन्य विद्यालयों के छात्र भी प्रयोग में ला सकते हैं। 


लॉरेल्स इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों के लिए ऑनलाइन सेमिनार भी शुरू कर रहा है  जिसमे दुनिया भर से शिक्षा विद बच्चों से ऑनलाइन बात करेंगें। इसी क्रम में एक्सेलसायर अमेरिकन स्कूल , गुरुग्राम की प्रिंसिपल सरबजीत कौर मेन्टल हेल्थ विषय पर इसी हफ्ते  बात करेंगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर