कुमार स्वामी बोले मैं माफी मांगता हूं, जब संकट खत्म हो जाएगा तो सबको रिसेप्शन में बुलाएंगे



बेंगलुरु,(स्वतंत्र प्रयाग) कोरोना संकट से पार पाने के लिए देश में लॉक डाउन चल रहा है और इसी लॉकडाउन के बीच शुक्रवार को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल की शादी हुई  लॉकडाउन की वजह से इस शादी में महज 50-60 करीबी रिश्तेदार ही शामिल हुए।


इससे पहले कुमारस्वामी ने अपने करीबियों और समर्थकों के लिए एक संदेश जारी कर माफी मांगी. उन्होंने कहा कि निखिल और रेवती की शादी 17 अप्रैल को फिक्स थी आप सभी को इसमें बुलाना चाहता था, लेकिन महामारी के दौर में यह संभव नहीं।



 


ऐसे में आप लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए घर से ही बेटे-बहू को आशीर्वाद प्रदान करें  कुमारस्वामी ने कहा, ''लॉकडाउन के कारण बेंगलुरु के फार्महाउस में शादी करना मुमकिन नहीं और घर पर मेहमानों की संख्या को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना भी कठिन है।


मैंने बेटे की शादी धूमधाम से करने की योजना बनाई थी, लेकिन अब इसमें मेरे भाई-बहन और परिवार के चंद लोग ही मौजूद रहेंगे  एक बार फिर आप लोगों से हाथ जोड़कर माफी मांगता हूं '' ''जब संकट दूर हो जाएगा तो आगे किसी तारीख पर बड़े रिसेप्शन में सबको बुलाएंगे।


अभी हमें लॉकडाउन की गाइडलाइन और संक्रमण से बचाव के उपायों को ध्यान में रखते हुए दूसरों के लिए नजीर पेश करनी है यह मेरा सौभाग्य है कि शादी की नई जगह रामनगर का फार्महाउस ग्रीन जोन में है और यहां संक्रमण का खतरा कम है ''।


कुमारस्वामी के बेटे निखिल अभिनय की दुनिया से राजनीति में आए हैं  उन्होंने पिछले साल मंडया सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा अब उनकी शादी कर्नाटक के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता एम. कृष्णाप्पा की पड़पोती रेवती के साथ हुई है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर