गरीबो असहायों के लिए पगड़ी के कपड़ो से बना रहा हूँ मास्क: पतविन्दर सिंह



 नैनी/ प्रयागराज,(स्वतंत्र प्रयाग), एक सिख पगड़ी के कपड़ों से मास्क बनाकर वितरण कर रहा है यह कपड़ा घर में पड़ी लग्न शादी के उत्सव पर पगड़ी के तौर पर उपयोग होना था लेकिन लॉक डाउन के दौरान इसका उपयोग मास्क बनाने के तौर पर किया जा रहा है।


मास्क की समस्या से जूझ रहे निर्धन तबके के लोगों की समस्या के निवारण हेतु सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि शादी की लग्न उत्सव मनाने के लिए मंगाई गई।नई पगड़ी का इस्तेमाल मास्क बनाने मे कर रहा  हूं।


सरदार पतविंदर सिंह निर्धन परिवार से हैं दिन -रात एक कर के अपने हाथों से मास्क तैयार करने में लगे हुआ है जिन्हें मुफ्त में बांटा जा रहा है श्री सिंह के छोटे से परिवार में पूजनीय माता दलजीत कौर बेटे के साथ कंधे से कंधा मिलाकर मास्क तैयार करने में हाथ बटा रही है।
 


सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि हर साल घर. परिवार. रिश्तेदार. इष्ट मित्रों में शादी लग्न उत्सव मैं एक -दूसरे को नई पगड़ी देने की रस्म होती है लॉक डाउन के कारण सभी तीज त्यौहार उत्सव निरस्त हो गए हैं और मानव को जीवित रहने के लिए पहले मास्क चाहिए।


तो दिमाग में ख्याल आया कि क्यों ना उक्त कपड़े को मास्क का रूप देकर जरूरतमंदों के बीच वितरित किया जाए जिससे उनका जीवन बचाया जा सके उन्होंने बताया कि अभी तक कई लोगों को मास्क वितरित किया जा चुका है और रोजाना मास्क बनाए जा रहे हैंl


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर