अगर भोजन पहुँचने में हुई देरी हुई तो सीधे जिलाधिकारियों की जबाब देही :योगी आदित्यनाथ


 


लखनऊ, (स्वतंत्र प्रयाग),मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारियों से कहा है कि सीएम हेल्पलाइन पर मैं ये नही सुनना चाहता कि अभी भोजन नही पहुँच रहा है ।


मुख्यमंत्री ने साफ शब्दो में आदेशित किया हैं कि अगर भोजन पहुँचने में देरी हुई तो सीधे जिलाधिकारियों की जबाबदेही होगी कोई भी ऐसी शिकायत सुनने को न मिले की कोई भोजन नही पाया सभी को सुबह 10 बजे से 2 बजे तक दोपहर का खाना पहुँचना आवश्यक  है तथा 6 बजे से 8 बजे तक रात्री का खाना पहुँचना जरूरी है योगी जी ने यह भी कहा कि किसी तरह की इसमें लापरवाही क्षम्य नही होगी।
 


हेल्पलाइन नम्बरो की प्रतिदिन समीक्षा कर रहा हूं  जिस जनपद के लोगो के ज्यादा फोन  मदद के लिए आ रहे है उन जिलाधिकारियों के बारे में लॉकडाउन के बाद फैसला लूंगा । 23 करोड़ की जनता का हित मेरी पहली प्राथमिकता है जिलाधिकारियों की जिम्मेदारी है कि कोई भूखा न रहे कोई भेदभाव नही होना चाहिए बिना भेद भाव के सभी के पास पहुँचे रासन तथा भोजन।
         


योगी आदित्यनाथ द्वारा चलाये जा रहे अभियान में 23 करोड़ जनता के लिए 66 करोड़ खादी के ट्रिपल लेयर स्पेशल मास्क बनाये जाएंगे इसमें गरीबो को मुफ्त में तथा बाकी लोगो को बहुत ही कम कीमत पर कपड़े के रे यूज़  वाले  वासेबुल मास्क मिलेंगे इसमें प्रदेश के हर नागरिक को दो दो मास्क दिए जाएंगे।
 


मुख्यमंत्री योगी ने सख्त निर्देश दिए है कि बिना मास्क के घर के बाहर निकलने की बिल्कुल अनुमति नही रहेगी अगर लॉक डाउन समाप्त होता है तो अपेडमिक एक्ट के  तहत सबको मास्क पहनना ही पड़ेगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर