1600 किलोमीटर  पैदल चल कर  आये लड़के ने  गांव पहुँचकर तोड़ा दम , श्रावस्ती अधिकारियो के ऊपर लापरवाही का आरोप



श्रावस्ती,(स्वतंत्र प्रयाग) देशभर मे लॉक डाउन से परेशान लोग अब भूख से मरने के बजाए पैदल चलकर जाना पसंद आ रहा है, लेकिन अब लोगों की जान भी इससे जानें लगी है, लॉकडाउन में मुंबई में फंसे 27 वर्षीय युवक को परेशानी हुई, तो वह 1,600 किलोमीटर पैदल चलकर सोमवार सुबह यूपी के श्रावस्ती जिले गांव पहुंचा।


घरवालों के पास रहकर वो कुछ घंटे तक रहा था, लेकिन सूचना मिलते ही तुरंत क्षेत्रीय अधिकारियों ने उसे स्कूल में बने क्वारंटीन सेंटर में डाल दिया  जहां चार घंटे बाद उसकी मौत हो गई।


गांववालों ने कहा कि युवक ने पैदल आने की बात बताई थी  लेकिन अधिकारियों की लापरवाही की वजह से लड़का नहीं बच सका, दिन चढ़ते ही उसे पेट दर्द के साथ उल्टी-दस्त शुरू हो गए  इससे पहले कि एंबुलेंस पहुंचती युवक ने दम तोड़ दिया।


सीएमओ ने मृतक के सैंपल कोरोना जांच को भेजे हैं  संपर्क में आए परिवार के 8 लोगों को स्कूल में ही क्वारंटीन किया गया है घटना मल्हीपुर थाना के मटखनवा गांव की है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर