कोरोना की वजह से अयोध्या के प्रमुख मंदिरों में दर्शनार्थियो के आने पर लगाई रोक


अयोध्या,(स्वतंत्र प्रयाग) राम नगरी में चैत्र नवरात्र मेले को सीमित करने के साथ ही अब मंदिरों का गेट भी श्रद्धालुओं के लिए बंद होने लगा है राम जन्म उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है कोरोना महामारी को देखते हुए अब मंदिर प्रशासन ने  राम जन्मोत्सव सामान्य तरीके से मनाने का निर्णय लिया है।


 दशरथ महल मंदिर के प्रशासन ने 2 अप्रैल तक मंदिर का गेट श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया है इस मंदिर में संत महात्माओं के एकत्र होने पर प्रतिबंध है  राम जन्म उत्सव यहां सामान्य तरीके से मनाने की बात कही जा रही है।


आपको बता दें पिछले वर्षों में राम जन्मोत्सव यहां बड़े भव्य तरीके से मनाया जाता रहा है लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुए अब सामान्य तौर से यहां चैत्र रामनवमी पर रामलला का जन्मोत्सव मनाने की बात कही जा रही है।


दशरथ महल के महंत देवेंद्र प्रसाद आचार्य ने कहा है कि इस बार मंदिर में चैत्र नवरात्र के दौरान विशेष आयोजन नहीं किया जाएगा मंदिर प्रशासन ने 2 अप्रैल तक श्रद्धालुओं के लिए मंदिर का गेट बंद रखने का निर्णय लिया है।


उन्होंने कहा कि दशरथ महल में अब संत एकत्र नहीं होंगे और श्रद्धालुओं को प्रवेश 2 अप्रैल तक नहीं दिया जाएगा राम जन्मोत्सव के अवसर पर पुजारी ही मंदिर में अनुष्ठान करेंगे।