तुर्की को भारत की चेतावनी कश्मीर मामले में न दे दखल


नई दिल्ली,(स्वतंत्र प्रयाग) भारत के विदेश मंत्रालय ने चेतावनी देते हुए कहा है कि तुर्की हमारे देश के आंतरिक मामले में दखल नहीं दें  इसके साथ नसीहत दी है कि वह पाकिस्तान के आतंकवाद पर नजर रखें  आपको बताते जाए कि तुर्की राष्ट्रपति एर्दोआन ने शुक्रवार को पाकिस्तानी संसद में अपने संबोधन में 'कश्मीरियों के संघर्ष की तुलना प्रथम विश्व युद्ध के दौरान विदेशी शासन के खिलाफ तुर्कों की लड़ाई से करने पर भारत की ओर से प्रतिक्रिया के रूप देखा जा रहा है।


 


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि जम्मू-कश्मीर को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति द्वारा किए गए सभी संदर्भों को भारत खारिज करता है उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है जो उससे कभी अलग नहीं हो सकता।



जम्मू-कश्मीर पर एर्दोआन के बयान को लेकर कुमार ने कहा कि भारत जम्मू-कश्मीर के सम्बंध में दिए गए सभी संदर्भों को खारिज कर दिया है  वह भारत का अभिन्न अंग है जो उससे कभी अलग नहीं हो सकता है।


 


उन्होंने कहा कि हम तुर्क नेतृत्व से अनुरोध करते हैं कि वह भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करे और भारत और क्षेत्र के लिए पाकिस्तान से उत्पन्न आतंकवाद के गंभीर खतरे सहित अन्य तथ्यों की उचित समझ विकसित करे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रधानमंत्री जी भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा में,लेमन थेरेपी से कोरोना वायरस को मिल रही है मात,:-पूर्व डीजीपी मैथलीशरण गुप्त

Coronavirus से घबराएं नहीं,दो बूंद नींबू का रस लें, पिएं हल्दी युक्त गुनगुना पानी :-पूर्व डीजीपी मैथिलीशरण गुप्त

कल से बदल जाएंगे कई नियम , आम आदमी की जेब और घर के बजट पर इसका सीधा असर