दोष देने वाली नही दिशा देने वाली दिल्ली को सरकार चाहिए मोदी


नई दिल्ली,(स्वतंत्र प्रयाग) प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी दिल्ली के द्वारिका में आज एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए की आप तथा कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि दिल्ली को दोष देने वाली  नही दिशा देने वाली  सरकार चाहिए दिल्ली को नफरत फैलाने वाली सरकार से मुक्ति चाहिए।


उन्होंने कहा कि किसानों का क्या दोष है जो पी यम किसान सम्मान निधि का लाभ नही मिल पा रहा है । मोदी ने कहा कि दिल्ली को उलझने वाली नही सुलझाने वाली  राजनीति चाहिए।


यह विकास की योजनाएं रोकने वाला नही सबका साथ सबका विकास तथा सबका विश्वास वाला नेतृत्व चाहिए।
मोदी ने आगे कहा कि दिल्ली में ऐसी बेदर्द सरकार है जो की दिल्ली वालो की जिंदगी की परवाह नही करती है।
 दिल्ली के लोगो का क्या अपराध है कि उन्हें उनका हक पी यम आवास योजना के तहत घर नही मिल पा रहा है ।
 


श्री मोदी ने आप सरकार का नाम लिए बिना कहा कि केंद्र सरकार की कई योजनाओं को लागू करने से मना कर दिया है दिल्ली के लोगो का क्या गुनाह है।जिसमें उन्हें पांच लाख रुपये तक मुफ्त इलाज देने बाली आयुष्मान भारत का लाभ नही मिल पाता उन्होंने कहा कि अगर दिल्ली का आदमी अगर किसी कार्य से दिल्ली के बाहर सूरत या अन्य शहरों में जाता है।


तो  अगर पहले तो भगवान करे कभी कोई बीमार न हो अगर संजोग से बीमार होता तो उसे आयुष्मान भारत के अंदर वही पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज होता है ।किन्तु दिल्ली सरकार के इस योजना के लागू न करने से इस इस योजना का लाभ दिल्ली के लोगो को नही मिल पायेगा।


उन्होंने आड़े हाथों लेते हुए यह भी कहा कि क्या दिल्ली की मोहल्ला क्लिनिक सूरत में बीमार आदमी 
को दवा करने जाएगा क्या।उन्होंने कहा कि दिल्ली का ये चुनाव इस दसक का पहला चुनाव है ये दशक भारत का दशक होने वाला  है और भारत की प्रगति उसके आज लिए गए फैसलों पर निर्भर करेगी की आज एक तरफ इन फैसलों को लेने वाला  पक्ष है और दूसरी तरफ इन फैसलों के खिलाफ खड़ा विपक्ष है।


दिल्ली को बदलने के लिए राष्ट्रहित के भाव को बुलंद रखने के लिए आपके जोश और जनून को मैं आदर पूर्वक नमन करता हु  वोटिंग से ठीक चार दिन पहले भाजपा के पक्ष में ऐसा माहौल लोगो की नींद उड़ा दिया है।


उन्होंने कहा कि कल पूर्वी दिल्ली तथा आज द्वारिका में ये साफ हो गया कि 11 फरवरी को दिल्ली में क्या परिणाम आएगा इस माहौल से साफ हो गया है कि दिल्ली की जनता भाजपा के पक्ष में ही समर्थन देगी ।